पदभार संभालते ही बोले गोवा के नए CM सावंत, पार्रिकर की विरासत को आगे ले जाएंगे

पणजीः गोवा के नवनियुक्त मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा है कि उन्हें बड़ी जिम्मेदारी दी गई है और वह दिवंगत मुख्यमंत्री मनोहर पार्रिकर की महान विरासत को आगे ले जाएंगे। डॉ. सावंत ने सोमवार रात मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। पदभार संभालने के बाद सावंत ने कहा कि गठबंधन के सहयोगियों को साथ लेकर ही आगे बढ़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि मैं भले ही पार्रिकर के जितना काम करने में समर्थ नहीं हूं लेकिन उनके अधूरे कामों को पूरा करने का हरसंभव प्रयास करूंगा।

गुलदस्ते न लाएं दोस्त और समर्थक
मुख्यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत ने मंगलवार को अपने दोस्तों और समर्थकों से गुलदस्ता नहीं देने की अपील करते हुए उनसे इसके बदले शुभकामनाएं और समर्थन मांगा है। डॉ. सावंत ने ‘फेसबुक पोस्ट’ में कहा, ‘‘मैंने अपने आदर्श और मार्गदर्शक मनोहर भाई के प्रति अत्यंत विनम्रता और कृतज्ञता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री का पद ग्रहण किया है। राज्य में शोक अब भी जारी है लिहाजा मैं अपने परिवार, दोस्तों और कार्यकर्त्ताओं से गुलदस्ता और ग्रीटिंग्स नहीं देने की अपील करता हूं। मुझे सुशासन के लिए प्रतिबद्धता की महान विरासत को आगे ले जाने के वास्ते आप सभी की शुभकामनाओं और समर्थन की जरूरत है। जय हिंद।’’

सैंकुलिम विधानसभा क्षेत्र से विधायक डॉ. सावंत ने कैंसर से जूझ रहे मुख्यमंत्री मनोहर पार्रिकर का 17 मार्च को निधन होने के बाद कल देर रात शपथ ली। इससे पहले भाजपा नेताओं ने गठबंधन सहयोगियों के साथ बैठक में मुख्यमंत्री पद के लिए डॉ. सावंत के नाम का प्रस्ताव रखा था। 47 वर्षीय डॉ. सावंत पूर्ववर्ती सरकार में गोवा आधारभूत ढांचा विकास निगम के अध्यक्ष थे। उनकी पत्नी सुलक्षणा सावंत रसायनशास्त्र की शिक्षक और गोवा प्रदेश महिला मोर्चा की अध्यक्ष है। पार्रिकर के 2017 में राज्य की राजनीति में लौटने और फिर मुख्यमंत्री बनने के बाद डॉ. सावंत को विधानसभा अध्यक्ष बनाया गया था।