तीन करोड़ रुपए खर्च कर रेल अफसरों ने बनाया यातायात के लिए चकरभाठा अंडरब्रिज, अब वहां नौकायान

पार्थो चक्रवर्ती 

बिलासपुर. तीन करोड़ की लागत से बना चकरभाठा अंडरब्रिज यातायात के लिए कम नौकायान के काम ज्यादा आ रहा है। रेलवे ने चकरभाठा स्टेशन के समीप इसका निर्माण कराया है। जब निर्माण चल रहा था तब भी यहां पानी भर जाता था। रेलवे अफसरों ने इसे नजर अंदाज किया। जैसे-तैसे निर्माण पूरा हो पाया।

285 मीटर लंबे इस अंडरब्रिज के लगभग 75 मीटर हिस्से में हमेशा पानी भरा रहता है। इसमें से 33 मीटर हिस्से में रेलवे लाइन के नीचे कांक्रीट का बॉक्स है। इसके बाद रिटेनिंग वाल व रैंप है। ठीक रेलवे लाइन के नीचे पानी इतना रहता है कि कार आधे से ज्यादा डूब जाती है। ऐसे में बच्चे ट्रकों के ट्यूब में हवा भरकर यहां नौकायान का मजा लेते रहते हैं।

कई बार ध्यान दिलाया

अंडरब्रिज और ओवरब्रिज का फासला 100 मीटर भी नहीं है। अंडरब्रिज की खामियों पर लगातार ध्यान दिलाने के बाद भी अफसरों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। पहले रेलवे कर्मचारी मोटरपंप लगाकर पानी बाहर निकालते थे, लेकिन कुछ घंटों में ही फिर से भर जाता था।