पाक में एक और हिंदू लड़की का अपहरण व धर्मांतरण, सुषमा ने इमरान सरकार को लगाई फटकार

इस्लामाबादः पाकिस्तान के सिंध प्रांत में 2 हिंदू लड़कियों के अपहरण और धर्म परिवर्तन पर मचा बवाल अभी शांत भी नहीं हुआ कि यहां एक और हिंदू लड़की सोनिया भील का भी अपहरण करने के बाद धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है। वरिष्ठ पाकिस्तानी पत्रकार बिलाल फारुकी ने ट्वीट कर इस नए अपहरण और धर्म परिवर्तन की जानकारी दी। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘एक और हिंदू लड़की सोनिया भील का सिंध में अपहरण कर लिया गया।

ये तब हुआ है जब हाल ही में दो हिंदू लड़कियों रीना और रवीना के अपहरण व धर्म परिवर्तन की खबरें सुर्खियों में हैं। यह सरकार अल्पसंख्यकों की सुरक्षा में क्यों असफल साबित हो रही है?’ बिलाल फारुकी के इस ट्वीट के बाद द एक्सप्रेस ट्रिब्यून अखबार ने इस खबर को प्रमुखता से वेबसाइट पर स्थान दिया।  पाकिस्तानी अखबारों ने भी हिंदू लड़कियों के अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन की खबरों को प्रमुखता दी है।

डॉन ने प्रधानमंत्री इमरान खान की तरफ से दो हिंदू लड़कियों के अपहरण और धर्म परिवर्तन को लेकर जांच के आदेश को प्रमुखता दी है जबकि द नेशन अखबार ने इस पूरे विवाद को शीर्ष खबर बनाया है। हालांकि उर्दू अखबारों में इस खबर को प्रमुखता नहीं मिली।

उधर, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज उन दो हिंदू लड़कियों को छोड़ने की मांग करते हुए पाकिस्तान पर दबाव बढ़ा दिया, जिन्हें कथित तौर पर अगवा कर लिया गया था और उन्हें जबरन धर्म परिवर्तन कराया गया था। केंद्रीय मंत्री ने ट्विटर पर इमरान सरकार को फटकार लगाते हुए इन दोनों लड़कियों को तुरंत उनके परिवार में को सौंपने के लिए कहा।

सुषमा ने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि ” लड़कियों की उम्र को लेकर कोई विवाद ही नहीं है.. नए पाकिस्तान के प्रधान मंत्री भी विश्वास नहीं करेंगे कि इस नाजुक उम्र की लड़कियां स्वेच्छा से धर्म परिवर्तन और विवाह के लिए फैसला कर सकती हैं…। सुषमा स्वराज ने न्याय की मांग करते हुए कहा कि दोनों लड़कियों को जल्द उनके परिवार के हवाले किया जाए।