सोशल मीडिया पर वायरल हुई मुरली मनोहर जोशी की चिट्ठी, बाद में देनी पड़ी सफाई

नई दिल्ली : भाजपा के मौजूदा सांसद मुरली मनोहर जोशी की शनिवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी के नाम एक चिट्ठी वायरल हो गई जिसके बाद राजनीतिक गलियार में तो हड़कंप मचा ही, सोशल मीडिया पर इसकी खूब चर्चा हुई। दरअसल वायरल चिट्ठी में जोशी ने आरोप लगाए कि मुझे और आडवाणी को अपमानित करके भाजपा से बाहर निकाला गया, इसमें लोकसभा चुनाव में भाजपा की संभावनाओं का भी जिक्र था। हालांकि देश शाम जोशी के दफ्तर की तरफ से इस चिट्ठी पर सफाई आई कि यह उनके द्वारा नहीं लिखी गई है।
PunjabKesari
जोशी के ऑफिस से बयान जारी हुआ कि यह चिट्ठी फेक है। दरअसल चिट्ठी की सत्यता पर इसलिए भी लोगों को यकीन हुआ क्योंकि इस पर ANI का लोगो लगा हुआ था और सोशल मीडिया पर यूजर्स इसे शेयर करने लग गए। न्यूज एजेंसी की तरफ से भी इस पर बयान आया कि यह चिट्ठी फेक है, हमारे पर ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं पहुंची। इससे साफ हो गया कि किसी ने शरारत करके इसे वायरल किया है।