तूफान का खतरा टला, आंधी के कारण आसमान में छाई धूल ने दिलाई गर्मी से राहत

गर्वित श्रीवास्तव 

जोधपुर. मौसम विभाग की पश्चिमी राजस्थान में धूल भरे बवंडर उठने की चेतावनी का खतरा टल गया है। अलबत्ता गुरुवार देर रात चली तेज हवा ने आंदी का रूप धारण कर लिया। इस कारण आसमान में धूल छा गई। इस कारण लोगों को गर्मी से कुछ राहत अवश्य मिल गई

मौसम विभाग की ओर से 11 से 13 अप्रैल के बीच राजस्थान में तेज अंधड़, बिजली गिरने व तूफान आने की संभावना बताई गई थी, लेकिन बुधवार से बदली परिस्थितियों के चलते मौसम साफ होने की उम्मीद है। शुक्रवार को हवाएं चल सकती हैं। आपदा प्रबंधन, सहायता एवं नागरिक सुरक्षा विभाग के संयुक्त शासन सचिव ने दो दिन पहले प्रदेश के 20 जिला कलेक्टर को पत्र भेजकर राजस्थान में तेज हवाएं चलने व तूफान की चेतावनी से अवगत करवाया था। उन्होंने यह पत्र मौसम विभाग से मिली चेतावनी के आधार पर जारी किया। लेकिन बुधवार को बदली परिस्थितियों के बाद तूफान आने की संभावना नहीं नजर आ रही थी।

जोधपुर संभाग में देर रात चली आंदी के कारण आसमान में धूल की परत छा गई। इस कारण आज गर्मी से कुछ राहत महसूस हो रही है। मौसम विभाग का कहना है कि आज भी हल्की आंधी का दौर जारी रह सकता है। मौसम विभाग ने स्पष्ट कर दिया है कि अब तूफान नहीं आएगा। यह जरूर है कि हवाएं चल सकती है तथा तापमान में बढ़ोतरी की संभावना है। कुछ स्थानों पर बादल भी छा सकते है। जोधपुर शहर का अधिकतम स्थिरता के साथ 41.2 व न्यूनतम पारे में मामूली बढ़ोतरी के साथ 28.1 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। वहीं सीमावर्ती बाड़मेर-जैसलमेर में देर रात चली आंधी के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ। साथ ही आज सुबह तक आसमान में धूल छाई हुई है।