नाबालिग से छेड़छाड़ करने के अाराेपी युवक को 3 साल की कैद

बंडा/सागर

शिरीष सिलकारी 

बाजार जा रही 18 साल से कम उम्र की नाबालिग किशोरी से छेड़छाड़ करने वाले युवक को बंडा के अपर सत्र न्यायाधीश उमाशंकर अग्रवाल ने 3 साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। घटना तीन साल पहले बंडा थाने के तहत आने वाले वार्ड नंबर-13 में हुई थी।

अपर लोक अभियोजक रामनारायण यादव ने बताया कि 22 मार्च 2016 की शाम करीब 5 बजे बंडा के किसानी मोहल्ला निवासी आरोपी सोनू उर्फ श्याम सुंदर पिता हरिशंकर मिश्रा नाबालिग युवती के घर के सामने स्थित मंदिर के चबूतरे पर बैठ गया। जैसे ही बाजार जाने के लिए किशोरी घर से बाहर निकली आरोपी युवक बाइक से उसका पीछा करने लगा। रास्ते में रोककर आरोपी ने किशोरी से उसका मोबाइल नंबर मांगा और हाथ पकड़ लिया।

किशोरी ने इंकार किया तो आरोपी ने उसके पिता को गुंडों से पिटवाने और दोनों को जान से मारने की धमकी दी। घटना की जानकारी किशोरी ने अपने घर जाकर माता-पिता को दी। इसके बाद बंडा थाने में 25 मार्च 2016 को आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई।

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 294, 354, 506 तथा लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 की धारा 7/8 के तहत केस दर्ज कर चालान कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने गवाहाें के बयान और साक्ष्यों के आधार पर आराेपी को दोषी माना। कोर्ट ने आरोपी को 3 साल के सश्रम कारावास तथा 3 हजार रुपए अर्थदंड से दंडित किया है। अर्थदंड की राशि जमा होने पर दो हजार रुपए प्रतिकर के रूप में पीड़ित बालिका को दिए जाने के आदेश भी कोर्ट ने दिए हैं।