पाक में शादी, दुल्हन वीजा मिलने के बाद ही आएगी भारत

गर्वित श्रीवास्तव 

बाड़मेर. भारत-पाक के बीच तनाव कम होने के बाद सरहदी गांव खेजड़ का पार के दूल्हे की बारात थार एक्सप्रेस से पाक पहुंची। हिंदुस्तानी दूल्हे ने पाक दुल्हन के साथ सामाजिक रस्मों रिवाज के साथ शादी रचाई। एयर स्ट्राइक के बाद दोनों देशों के बीच तनाव के बाद रिश्तों की पहली खबर आई है।

अमरकोट के सिणोई में खेजड़ का पार निवासी दूल्हे महेंद्रसिंह ने पाक दुल्हन के साथ सात फेरे लिए। इस शादी के गवाह दोनों पक्षों के रिश्तेदार व परिवार के सदस्य बने।

गौरतलब है कि महेंद्र सिंह निवासी खेजड़ का पार का रिश्ता पाकिस्तान के अमरकोट प्रांत के छोर के सिणोई निवासी राणसिंह सोढ़ा की बेटी से रिश्ता तय हुआ था। 8 मार्च को शादी की तारीख तय होने के बाद थार एक्सप्रेस से पाक रवाना होना था। लेकिन भारत-पाक के बीच उपजे तनाव के मद्देनजर दूल्हे ने शादी टाल दी थी। 18 अप्रैल को शादी हुई है।

दूल्हा-दुल्हन पाक में रहेंगे, बाराती लौटेंगे
शादी की रस्मों पूरी होने के बाद दूल्हा व दुल्हन अभी पाक में ही रूकेंगे। दुल्हन की वीजा मिलने के बाद ही भारत आएंगे। महेंद्रसिंह की बारात में गए बाराती अगले शनिवार को पाक से आने वाली थार एक्सप्रेस से लौट आएंगे। बाराती नरपतसिंह ने बताया कि उनके गांव से पहली बार थार एक्सप्रेस से पाक बारात लेकर गए। सिणोई में रिश्तेदारों ने खूब सत्कार किया। वह पल हमेशा के लिए यादगार बन गया है।