यमुना में डूबे मेडिकल छात्र का 48 घंटे बाद भी सुराग नहीं

अनुज कुमार 

बेहट (सहारनपुर) : शुक्रवार को यमुना नदी में डूबे मेडिकल छात्र का 48 घंटे बीत जाने के बाद भी कोई सुराग नहीं लगा है। शनिवार दोपहर से बेहट व मिर्जापुर पुलिस के साथ ही दमकल तथा हरिद्वार से पहुंची जल पुलिस व गोताखोर यमुना में डूबने के स्थान से दूर-दूर तक छात्र की लगातार तलाश में जुटे हैं। रविवार की शाम तक छात्र का कोई पता नहीं लग सका था।

गौरतलब है कि ग्लोकल मेडिकल कालेज का बीयूएमएस का छात्र सुहैल पुत्र निसार निवासी शेरकोट बिजनौर शुक्रवार को अपने अन्य छात्र साथियों के साथ हथनीकुंड बैराज पर घूमने गया था। वहां हथनीकुंड व लांडापुल के बीच नहाते हुए वह यमुना नदी में डूब गया था। उसके साथियों की सूचना पर यूपी 100 पुलिस व कालेज के अधिकारी व स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे और उसकी तलाश शुरु कराई। लेकिन सुहैल का कोई पता नहीं चल सका था। इस मामले को लेकर छात्र के परिजनों व अन्य साथी छात्रों ने शनिवार को पुलिस प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए दिल्ली-यमनोत्री हाइवे पर गंदेवड़ में जाम लगा दिया था। उधर, पुलिस शनिवार से ही गोताखोरों, दमकल व उत्तराखंड की जल पुलिस की मदद से लगातार छात्र को ढूंढने का प्रयास कर रही है, लेकिन समाचार लिखे जाने तक कोई सफलता हाथ नहीं लगी थी। शुक्रवार की शाम से ही छात्र के परिजन भी मौके पर मौजूद है।