पावर पार्टी प्रत्याशी हनुमान लापता, कांग्रेस नेताओं पर केस

भवानीसिह राठौड 

नागाैर नागौर में पावर पार्टी से चुनाव लड़ रहे हनुमानराम लापता हैं। उनके बड़े भाई बीरमाराम ने देचू थाने में कांग्रेस नेताअाें पर अपहरण का केस दर्ज कराया है। उधर, शनिवार देर रात चामू के एएसआई राणीदानसिंह ने दावा किया कि एक मोबाइल नंबर से उनके पास कॉल आया कि मैं हनुमानराम बोल रहा हूं। मेरा किसी ने अपहरण नहीं किया। मैं सुरक्षित हूं और 23 अप्रैल तक वापस आ जाऊंगा। इस बीच ईनाणा निवासी शैतानराम ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि हनुमानराम ने अपने पर्चे में प्रस्तावक के रूप में उसके फर्जी साइन किए हैं।

रिपोर्ट में आरोप- कांग्रेस नेताओं ने अपहरण कर जबरन पर्चा भरवाया :
बालेसर के गोदेलाई शोभाणियों की ढाणी निवासी बीरमाराम जाट ने रिपोर्ट में कहा कि उनके छाेटे भाई हनुमानराम का 18 अप्रैल को अपहरण किया गया। इसके बाद उससे नागौर सीट से चुनाव लड़ने का जबरन नामांकन पत्र भरवा दिया गया। अपहरण और जबरन नामांकन कराने में नागौर की इंदिरा कॉलोनी निवासी वरिष्ठ कांग्रेस नेता राधेश्याम सांगवा और नागौर के सिणो निवासी सिद्धार्थसिंह चौधरी व तीन अन्य व्यक्ति शामिल हैं।

रिपाेर्ट में अाराेप लगाया गया है कि आरोपियों ने हनुमानराम को किसी अज्ञात स्थान पर बंधक बनाकर रखा हुअा है। शुक्रवार दोपहर बाद से ही हनुमान का मोबाइल बंद आ रहा है।

कांग्रेस ने कहा : आरोप झूठे और गलत :
कांग्रेस जिलाध्यक्ष जाकिर हुसैन ने कहा है कि इस प्रकरण से कांग्रेस पार्टी का काेई लेना देना नहीं है। सारे अाराेप गलत व झूठे हैं। उधर, नागाैर में भाजपा के सहयाेग से चुनाव लड़ रहे अारएलपीटी के हनुमान बेनीवाल ने कहा- मेरे हमनाम का अपहरण करना और फिर चुनाव मैदान में उतारना बड़ी सियासी साजिश का संकेत है।