नकली सोना बेच रहे दो ठग चढ़े पुलिस के हत्थे

लखीमपुर : भारत-नेपाल सीमा पर थारू जनजाति इलाके में नकली सोना बेचकर ठगी का धंधा करने वाले दो लोगों को गौरीफंटा पुलिस ने पकड़ कर जेल भेजा है। पुलिस ने इनके पास से नकली सोना भी बरामद किया है। पुलिस ने दोनों के खिलाफ ठगी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। थारू गांव के ढकिया तिराहे के पास अखिलेश गुप्ता की पत्नी भूरी के पास दो लोग एक नकली सोने का हार बेंचने आए। ठगों ने नकली हार से दो मोतियों के

माले को तोड़कर दिया और कहा कि वे इसकी जांच करा ले और यदि यह असली हो तो हार खरीदे नहीं तो न खरीदे। ठगों के झांसे में आकर अखिलेश गुप्ता ने हार की सौदेबाजी शुरू की। इसकी सूचना पर सूंडा बैरियर के पास गश्त कर रहे सिपाही रामकिशोर सिंह व बृजमोहन मौके पर पहुंचे और दोनों ठगों को पकड़ लिया। पूछताछ में उन्होंने अपना नाम शत्रुहन पुत्र कन्हैया रायभाट और गौतम पुत्र मोहन रायभाट निवासी लालकुआं नैनीताल उत्तराखंड बताया। गौरीफंटा कोतवाल रमेश चंद्र यादव ने बताया कि दोनों ठग पीतल के हार पर सोने का पानी चढ़ाकर नेपाल व नेपाल सीमा पर सीधे साधे लोगों से काफी समय से ठगी का धंधा करते आ रहे हैं। इनके पास से 879 ग्राम पीली धातु यानी नकली सोना तथा दो दाने असली सोना बरामद हुआ है। पुलिस ने बताया कि अखिलेश की तहरीर पर दोनों के खिलाफ ठगी का मुकदमा दर्ज करते हुए उनको जेल भेज दिया गया है।