कांग्रेसी से बोला ठग-कलेक्टर हूं… मदद करो, ~30 हजार खाते में डालो

मीनाक्षी पारीक 

जयपुर. साइबर ठगों ने मंगलवार को जयपुर कलेक्टर जगरूप सिंह यादव के नाम पर फेसबुक की फर्जी आईडी से 30 हजार रुपए कांग्रेसी कार्यकर्ता सुरेश यादव से ठगने की कोशिश की। भास्कर ने मामले की पड़ताल की तो पता चला मदद के नाम पर जो बैंक अकाउंट नंबर ठगों ने रुपए डालने लिए दिया था, वह झारखंड के जमशेदपुर की अंजलि चंद्रा के नाम पर है। भास्कर सुरेश यादव को लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचा और कलेक्टर जगरूप सिंह को बताया तो वह चौंके और फिर बैंक खाता ब्लॉक करवा दिया। मामले की जांच डीसीपी (ईस्ट) राहुल जैन को दी गई है। कलेक्टर जगरूप सिंह यादव ने बताया कि पुलिस को केस दर्ज कर जल्द आरोपी को गिरफ्तार करने के आदेश दिए हैं। प्रदेश कांग्रेस खेलकूद प्रकोष्ठ के उपाध्यक्ष सुरेश यादव ने बताया कि भास्कर में मंगलवार सुबह ही साइबर ठगी की एक खबर पढ़ी थी। सुबह 9:17 बजे मैसेज आया तो संदेह हुआ। इस पर भास्कर कार्यालय में सूचना दी और मामले का खुलासा हो गया। सुरेश ने बताया कि मंगलवार सुबह ही फ्रेंड रिक्वेस्ट आई थी। एक्सेप्ट करते ही हाय के बाद मदद मांग ली।

कलेक्टर चौंके फिर तुरंत एक्शन लिया

भास्कर रिपोर्टर और सुरेश ने कलेक्टर को उनके नाम का हूबहू एफबी अकाउंट दिखाया तो कलेक्टर पहले चौंक गए, हंसे और फिर तुरंत एक्शन लिया। कलेक्टर बनकर चैट करने वालों की पूरी बातचीत उन्होंने पढ़ी। उन्होंने अपना पर्सनल फेसबुक अकाउंट भी बंद करवा दिया।

बार एसोसिएशन अध्यक्ष के नाम से भी ऐसे हो चुकी है ठगी
15 अप्रैल को भी दि डिस्ट्रिक्ट एडवोकेट्स बार एसोसिएशन अध्यक्ष सुनील शर्मा के मैसेंजर से उनके जानकारों को मैसेज कर हादसा होने और  मदद के नाम पर रुपए पेटीएम करवा लिए थे। पतंजलि शर्मा से 7 हजार व संजय सिंह उदावत से 5 हजार ठगे थे। बनीपार्क थाने में केस दर्ज हैं।

बैंक ऑफ इंडिया का अकाउंट नं.-593710110008013, आईएफसी कोड-बीकेआईडी0005937 से पकड़ा मामला