रोहित शेखर हत्याकांडः अपूर्वा को पुलिस ने किया गिरफ्तार, गला दबाकर की थी पति की हत्या

देहरादून/दिल्लीः उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के बेटे की मौत के मामले में दिल्ली पुलिस ने रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने अपूर्वा के खिलाफ अहम सबूत मिलने का दावा किया है। क्राइम ब्रांच ने खुलासा करते हुए बताया कि सबूत मिटाने के लिए अपूर्वा ने फोन को फॉर्मेट किया था। इस मामले में अब क्राइम ब्रांच दोपहर ढाई बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी।

जानकारी के अनुसार, रोहित की मौत के बाद मंगलवार को उसके कमरे की पहली तस्वीर सामने आई थी, जिसमें उनके बेड पर खून से भरी चादर, कुशन कवर, टिशू पेपर और जमीन पर खून के निशान भी मिले। इससे पहले क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने अपूर्वा के बालों और नाखूनों के नमूने लेकर फॉरेंसिक जांच के लिए भेजे थे। इसके साथ ही घटना के दौरान घर में मौजूद 2 नौकरों के नाखूनों के नमूने भी जांच के लिए भेजे गए थे।
वहीं रोहित की मां ने आरोप लगाते हुए कहा था कि शादी के बाद से रोहित और अपूर्वा के बीच झगड़ा शुरू हो गया था। इसके साथ ही दोनों में तलाक को लेकर कई बार चर्चा होने के बाद यह तय हुआ था कि इस पर जून में फैसला होगा। झगड़े के बाद 3 से 29 मार्च तक अपूर्वा अपने मायके में रही थी। इसके बाद अपूर्वा 30 मार्च को वापस अपने ससुराल लौटी थी। इसके अतिरिक्त मां उज्जवला ने आरोप लगाते हुए कहा था अपूर्वा और उसका परिवार रोहित की जायदाद को हड़पना चाहता था।

बता दें कि रोहित तिवारी की मौत 15 अप्रैल को देर रात हुई थी। रोहित की मौत का कारण स्पष्ट ना होने पर उसकी जांच क्राइम ब्रांच को सौंपी गई थी। जांच के दौरान पत्नी ने स्वीकार किया कि रोहित की मौत के एक दिन पहले दोनों के बीच झगड़ा हुआ था। इसी बीच दोनों ने एक दूसरे का गला भी दबाया था।