आकाशीय बिजली से बचाएगा दामिनी मोबाइल एप्प

बड़वानी – (आबिद शेख)

21 जुलाई/कृषि विज्ञान केन्द्र बड़वानी के प्रधान वैज्ञानिक डाॅ. एस. के. बड़ोदिया तथा मौसम वैज्ञानिक रविन्द्र सिकरवार ने बड़वानी जिले के किसानों एवं आम नागरिकों से आकाषीय बिजली व वज्रपात से बचने के लिए अपने मोबाईल में दामिनी एप डाउनलोड करने की अपील की है । उन्होनें कहा है कि भारत मौसम विज्ञान विभाग द्वारा विकसित किया गया यह एप आकाषीय बिजली की सटीक पूर्वनुमान देता है ।
डाॅ. बड़ोदिया ने जानकारी देते हुए कहा कि आकाषीय बिजली को रोका नहीं जा सकता है, परंतु जागरूकता अभियान के माध्यम से सतर्क कर लोगोें की जाने बचाई जा सकती है । यह मोबाईल एप घटना के सटीक पूर्वानुमान के लिए पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अंतर्गत संचालित भारतीय उष्णदेषीय विज्ञान संस्थान द्वारा बनाया गया है । इस एप की मदद से बिजली गिरने के 30 से 40 मिनट पहले ही इसकी चेतावनी मोबाइल पर प्राप्त हो जाएगी । इस एप का नाम दामिनी है, जो हमें बिजली गिरने से पहले चेतावनी देता है ।
उन्होने बताया कि प्रत्येक वर्ष 50-100 बिजली गिरने की घटनाएॅं होती है । वर्तमान समय में आकाषीय बिजली को अन्य सभी प्राकृतिक आपदाओं की तुलना में सबसे अधिक जानलेवा आपदा में गिना जाता है । बिजली गिरने से भारत में प्रतिवर्ष लगभग 2000 से अधिक लोगों की मौत हो जाती है । वज्रपात एक तेजी से विकसित होने वाली मौसम संबधी घटना है । कृषि विज्ञान केन्द्र बड़वानी के मौसम वैज्ञानिक रविन्द्र सिकरवार ने बताया कि यह मोबाइल एप किसानों के साथ-साथ आम जनता के लिए भी उपयोगी साबित हो रहा है । इस एप को अपने मोबाईल के प्ले स्टोर से निःशुल्क डाउनलोड कर एप को रजिस्टर कर सकते है । आवष्यक जानकारी जैसे नाम, मोबाइल नंबर, पिन कोड, लोकेशन, व्यवसाय, देकर एप पर पंजीयन कर इंस्टाल कर सकते है ।