Breaking
बदलनी होंगी स्वास्थ्य क्षेत्र की प्राथमिकताएं: आम जनता की रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार किया जाना आवश्यक राष्ट्रपति चुनाव: बेलारूस में लुकाशेंको छठी बार जीते, प्रदर्शनकारियों की सुरक्षा बलों के साथ झड़प, एक की मौत ऑनलाइन परीक्षा : कश्मीर में धीमी गति की इंटरनेट सेवा छात्रों के लिए परेशानी का सबब पायलट-राहुल की मुलाकात से कांग्रेस का राजस्थान संकट सुलझ सकता है, मुख्यमंत्री गहलोत से होंगे मतभेद दूर बेरूत धमाके को लेकर उपजे जनाक्रोश के चलते लेबनान के प्रधानमंत्री ने पूरी कैबिनेट के साथ दिया इस्तीफा मुख्‍यमंत्रियों की बैठक में पीएम मोदी बोले, बाढ़ की पूर्व सूचना प्रणाली में नई तकनीक का उपयोग हो कांग्रेस सांसद के आरोपों पर पुरी का करारा पलटवार, बोले- बिना जानकारी के ना करें बात ICC बोर्ड बैठक रही बेनतीजा, नहीं बनी चेयरमैन के उम्मीदवार के नाम पर सहमति कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए मोदी सरकार के कदमों से 74 फीसद ग्रामीण संतुष्ट छह स्‍वदेशी स्वाति रडार खरीद रही सेना, 50 किमी के दायरे में दुश्‍मन के विमान को कर लेगा डिटेक्‍ट

रेलवे के आइसोलेशन कोच में भर्ती मरीजों का आंकड़ा 500 के पार

नई दिल्ली। देश के तीन राज्यों में विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर कोरोना रोगियों के आइसोलेशन के लिए लगाए गए रेल कोचों में अब तक 500 से ज्यादा लोगों को भर्ती किया जा चुका है। बुधवार को भी 12 लोगों को इन कोच में भर्ती किया गया

रेलवे ने दिल्ली, उत्तर प्रदेश और बिहार में 36 स्टेशनों पर 813 कोच लगाए हैं, जिनमें अब तक 508 रोगियों को भर्ती कराया जा चुका है। इनमें से 406 को छुट्टी भी दी जा चुकी है। बाकी 102 संक्रमित दिल्ली के शकूरबस्ती स्टेशन पर आइसोलेशन कोच में भर्ती हैं। इस समय दिल्ली में 10 रेलवे स्टेशनों पर 503, उत्तर प्रदेश के 10 स्टेशनों पर 270 और बिहार के एक स्टेशन पर 40 कोच खड़े हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार इन परिवर्तित रेलवे कोच का इस्तेमाल बहुत मामूली लक्षण वाले संक्रमितों के लिए किया जा सकता है। तीनों राज्यों में रेलवे के इन डिब्बों में कुल 12,472 बेड हैं। ये कोच आक्सीजन सिलेंडर जैसी चिकित्सकीय सुविधाओं से लैस हैं। इनमें मच्छरदानी, फोन और लैपटॉप के लिए चार्जिग प्वाइंट भी लगे हुए हैं और शौचालयों को बाथरूम में बदल दिया गया है।

बता दें कि भारत में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्‍या तेजी से बढ़ रही है। प्रतिदिन 40 हजार से ज्‍यादा कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं। हालांकि, रिकवरी रेट भी लगातार बढ़ रहा है। अब तक कुल 988029 संक्रमित ठीक हो चुके हैं।