Breaking
बदलनी होंगी स्वास्थ्य क्षेत्र की प्राथमिकताएं: आम जनता की रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार किया जाना आवश्यक राष्ट्रपति चुनाव: बेलारूस में लुकाशेंको छठी बार जीते, प्रदर्शनकारियों की सुरक्षा बलों के साथ झड़प, एक की मौत ऑनलाइन परीक्षा : कश्मीर में धीमी गति की इंटरनेट सेवा छात्रों के लिए परेशानी का सबब पायलट-राहुल की मुलाकात से कांग्रेस का राजस्थान संकट सुलझ सकता है, मुख्यमंत्री गहलोत से होंगे मतभेद दूर बेरूत धमाके को लेकर उपजे जनाक्रोश के चलते लेबनान के प्रधानमंत्री ने पूरी कैबिनेट के साथ दिया इस्तीफा मुख्‍यमंत्रियों की बैठक में पीएम मोदी बोले, बाढ़ की पूर्व सूचना प्रणाली में नई तकनीक का उपयोग हो कांग्रेस सांसद के आरोपों पर पुरी का करारा पलटवार, बोले- बिना जानकारी के ना करें बात ICC बोर्ड बैठक रही बेनतीजा, नहीं बनी चेयरमैन के उम्मीदवार के नाम पर सहमति कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए मोदी सरकार के कदमों से 74 फीसद ग्रामीण संतुष्ट छह स्‍वदेशी स्वाति रडार खरीद रही सेना, 50 किमी के दायरे में दुश्‍मन के विमान को कर लेगा डिटेक्‍ट

एएसआई पर गाड़ी चढ़ाने वाला आरोपी हुआ गिरफ्तार

गजेन्द्र जाँगिड़

जोधपुर – जिले के प्रमुख चौराहों माने जाने वाले जलजोग चौराहा पर गुरुवार सुबह एक बोलेरो चालक ने ड्यूटी पर तैनात एएसआई पर गाड़ी चढ़ा दी। इसी संदर्भ में एएसआई ने शास्त्रीनगर थाने में हत्या प्रयासरत केस दर्ज करवाया। अगले दिन से पुलिस ने अलग अलग टीमों का गठन कर सघन तलाशी अभियान शुरू किया। जिसमें आरोपी जंभेश्वर नगर बूडियों की ढाणी कांकाणी निवासी प्रेम पुत्र पूनाराम बूडिया को गिरफ्तार किया। उससे वारदात में काम आने वाली बोलेरो भी जब्त की गई। प्रत्येक जगह के सीसीटीवी कैमरों और टीम की मदद से गाड़ी नंबरों से उसका पता लगा आरोपी तक पहुंचे। शास्त्रीनगर थानाधिकारी राजेन्द्र सिंह राजपुरोहित ने जानकारी दी कि जोधपुर कमिश्नरेट में यातायात पुलिस की ओर से इन दिनों नाकाबंदी और संदिग्ध वाहनों की सघन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। इसी के तहत गुरुवार की सुबह एएसआई ओमाराम व अन्य पुलिसकर्मी की ड्यूटी जलजोग चौराहा पर लगाई गई थी। सभी वहाँ अपनी ड्यूटी पूर्ण रूप से निभा रहे थे। उसी दौरान एक बोलेरो बारहवीं रोड से जलजोग चौराहा की तरफ से आ रही थी।तभी वहाँ तैनात महिला कांस्टेबल ने उसे रोकने का इशारा किया लेकिन उसके बाद भी चालक नहीं रूका। तो उसी समय एएसआई ओमाराम ने गाड़ी के सामने पहुंचकर चालक को हाथ से गाड़ी रोकने का इशारा किया। इशारा करने पर चालक ने गाड़ी की रफ्तार धीमी तो कर दी लेकिन वह अपने वाहन नहीं रोका। ऐसे में माना जा रहा है कि चालक ने जानबूझकर एएसआई के पर गाड़ी चढ़ाई। एएसआई अपने आपको बचाने हेतु गाड़ी के बोनेट पर चढ़ गया और गाड़ी के आगे के कांच पर लगे वाइपर को पकड़ लिया। इतने में ही बोलेरो चालक ने गाड़ी की रफ्तार तेज कर एएसआई नीचे गिरा दिया।जिससे वे घायल हो गये। फिर भी चालक ने गाड़ी को न रोककर भाग निकला। घायल एएसआई को एमडीएम अस्पताल ले जाया गया। जहाँ पैर व हाथ पर चोट व जख्मी होने के कारण उपाचार शुरू किया। आरोपी प्रेम पुत्र पूनाराम बूडिया के खिलाफ कुडी, लूणी में भी कई मारपीट व अन्य धाराओं में केस दर्ज है। इनके अलावा एससीएसटी एक्ट के दो केस भी है। आरोपी बदमाश और शातिर प्रवृति का बताया जाता है। आरोपी से वारदात में प्रयुक्त बोलेरो को भी जब्त किया गया है।