IND vs AUS: सिडनी में दर्शकों ने फिर दीं मोहम्मद सिराज को गालियां, पुलिस ने दिखाया बाहर का रास्ता

 

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में चार मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मुकाबला खेला जा रहा है। इस मैच के तीसरे दिन बड़ा विवाद पैदा हो गया था, जब भारतीय तेज गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज को दर्शकों द्वारा भद्दी गालियां दी गईं। इसके बाद टीम इंडिया ने इसकी मैच रेफरी और अंपायरों से शिकायत भी की। यह मामला पूरा शांत ही नहीं हुआ था कि, मैच के चौथे दिन भी कुछ दर्शकाें ने फिर से तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज को बांउड्री लाइन पर फील्डिंग करते समय गालियां दीं। इसकी वजह से मैच को कुछ समय के लिए रोका भी गया। बाद में भारतीय खिलाड़ियों के दर्शकों द्वारा गालियों की शिकायत के बाद कुछ दर्शकों को मैदान से बाहर जाने को कहा गया जिसके बाद भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच चौथे दिन का खेल शुरू हुआ।

एक यूजर ने इस वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर किया है। वीडियाे में देखा जा सकता है कि मोहम्मद सिराज दर्शकों की तरफ इशारा करते हुए दिख रहे हैं और वह अंपायर से शिकायत कर रहे हैं कि दर्शकों में से कुछ लोग उन्हें गाली दे रहे हैं।

इस मैच में ऑस्ट्रेलिया काफी मजबूत स्थिति में है। मैच के चौथे दिन स्टीव स्मिथ मैच मैच में अपने दूसरे शतक से चूक गए लेकिन युवा कैमरन ग्रीन ने तेजतर्रार अर्धशतक जड़ा जिससे ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन रविवार को टी-ब्रेक तक अपनी दूसरी पारी छह विकेट पर 312 रन पर घोषित करके भारत को 407 रन का बेहद मुश्किल लक्ष्य

बल्लेबाजी के लिए मुश्किल हो चुकी पिच पर ग्रीन (132 गेंद में 84 रन) ने धीमी शुरुआत के बाद बेखौफ होकर बल्लेबाजी की। उन्होंने अपनी पारी में आठ चौके और चार छक्के मारे और कप्तान टिम पेन (52 गेंद में नाबाद 39 रन) के साथ छठे विकेट के लिए 20 से कम ओवरों में 104 रन जोड़े। ऑस्ट्रेलिया की ओर से स्टीव स्मिथ (167 गेंद में 81 रन) और मार्नस लाबुशेन (118 गेंद में 73 रन) ने भी अर्धशतक जड़े।

इस मैच में भारत को खराब फील्डिंग का खामियाजा भी भुगतना पड़ा जब हनुमा विहारी, उप कप्तान रोहित शर्मा और कप्तान अजिंक्य रहाणे ने क्रमश: स्क्वायर लेग, स्लिप और गली में आसान कैच टपकाए। रविचंद्रन अश्विन (95 रन पर दो विकेट) ने सफल डीआरएस के बाद स्मिथ को मैच में दूसरा शतक जड़ने से रोका लेकिन कुल मिलाकर इस ऑफ स्पिनर ने अपनी गेंदबाजी से निराश किया।