MP में राम मंदिर निर्माण के लिए चलाए जा रहे धन संग्रह में एक दिन में जुटे 15 करोड़ रुपए, जानें किसने कितना दान दिया

भोपाल

मध्य प्रदेश के अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर के निर्माण के लिए राज्य में धन संग्रह अभियान जारी हो गया है और इस अभियान के पहले दिन ही करीब 15 करोड़ रुपए जूता लिए गए हैं। राज्य के धन संग्रह अभियान में सूबे के सी.एम. शिवराज सिंह चौहान ने एक लाख 21 हजार, भोपाल सांसद प्रज्ञा सिंह ने वेतन से एक लाख 11 हजार 111 रुपए और अपने अखाड़े की तरफ से 11 लाख 11 हजार 111 रुपए दिए।

वहीं, इंदौर के उद्योगपति विनोद अग्रवाल ने एक करोड़ रुपए दिए। एक लाख से अधिक राशि देने वालों की संख्या देर शाम तक 50 से अधिक हो गई। प्रदेश के छह हजार स्थानों पर एक साथ 15 हजार टोलियां धन संग्रह अभियान के लिए निकली हैं। ये घर-घर जाएंगी। भोपाल और ग्वालियर संभाग में पांच हजार टोलियां हैं। इन सभी की मॉनिटरिंग भोपाल से हो रही है।

दूसरे समुदाय के लोगों ने भी सहयोग किया है। इस पहल का ही परिणाम है कि पहले दिन अच्छी खासी राशि एकत्रित हुई है। इधर, इंदौर के साथ मालवा प्रांत में स्वयंसेवकों की 2200 टोलियों में शामिल एक लाख कार्यकर्ता शहर की हर कॉलोनी, हर गली-मोहल्ले में पहुंच रहे हैं।

मुख्यमंत्री से उनके निवास पर निधि संग्रह अभियान का दायित्व निर्वहन कर रहे पदाधिकारियों ने भेंट की। शिवराज सिंह चौहान ने इस अवसर को सौभाग्यशाली बताया। मुख्यमंत्री से भेंट करने वाले पदाधिकारियों में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के निधि समर्पण अभियान के केंद्रीय सह अभियान प्रमुख विनायक राव देशपांडे के अलावा अशोक पांडे, राजेश तिवारी, खगेंद्र भार्गव, पीताम्बर राजदेव और अन्य पदाधिकारी शामिल थे।

शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी देते हुए कहा कि आज उनके लिए जीवन का सबसे सौभाग्यशाली दिन रहा। ऐसा लगा जैसे मानव जीवन सफल हो गया। श्रीराम मंदिर के निमार्ण में एक ईंट उनके परिवार की भी लगेगी। राम मंदिर नहीं, सचमुच में यह राष्ट्र मंदिर है।

सीएम ने लिखा है, ‘राम हमारे अस्तित्व हैं, राम हमारे आराध्य हैं, राम हमारे प्राण हैं, राम हमारे भगवान हैं और श्रीराम भारत की पहचान हैं। बिना राम के यह देश नहीं जाना जा सकता है। राम हमारे रोम रोम में रमे हैं। राम हमारी हर सांस में बसे हैं।’