IND vs AUS: बॉलिंग कोच भरत अरुण ने किया बड़ा खुलासा, जुलाई में ही तैयार हो गया था ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को लेग साइड में फंसाने का प्लान

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उसकी ही धरती पर चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-1 से हराकर लगातार दूसरी बार बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी को अपने नाम किया। ब्रिसबेन में अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में युवा भारतीय टीम ने जबर्दस्त खेल दिखाया और ऑस्ट्रेलिया को गाबा के मैदान पर हराने वाली पहली एशियाई टीम बनी। मोहम्मद सिराज की बेहतरीन गेंदबाजी और ऋषभ पंत की सूझबूझ भरी पारी के चलते टीम इंडिया ने यह ऐतिहासिक जीत दर्ज की। टेस्ट सीरीज के दौरान भारतीय गेंदबाजों ने स्टीव स्मिथ और मार्नस लाबुशेन को लेग साइड पर गेंदबाजी करके काफी परेशान किया और लगातार उनके विकेट झटके। इसी बीच, टीम इंडिया के बॉलिंग कोच भरत अरुण ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया है कि कंगारू टीम के बल्लेबाजों के खिलाफ लेग साइड का यह प्लान पिछले साल जुलाई से ही तैयार किया जा रहा था, जिसके चलते टीम को सफलता मिली।

ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में बात करते हुए भरत अरुण ने बताया, ‘रवि ने मुझे जुलाई के समय में बुलाया था और हम ऑस्ट्रेलिया दौरे को लेकर बातचीत कर रहे थे कि हमको ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के ऑफ साइड पर रोक लगानी होगी। तो हमने देखा कि स्टीव स्मिथ, लाबुशेन और कंगारू टीम के ज्यादातर बल्लेबाज कट, पुल और ऑफ साइड से बनाते हैं।’ अरुण ने बताया कि उन्होंने न्यूजीलैंड और खासतौर नील वैगनर की गेंदबाजी को भी देखा, जब वैगनर ने स्टीव स्मिथ को काफी परेशान किया था। उन्होंने कहा, ‘हमने न्यूजीलैंड अटैक से भी थोड़ी बहुत सीख ली। वह जब स्टीव स्मिथ को गेंदबाजी कर रहे थे, तो वह उनको बॉडीलाइन में गेंदबाजी करने की कोशिश कर रहे थे और स्मिथ दिक्कत में नजर आ रहे थे।’

भारतीय के बॉलिंग कोच ने आगे बताया, ‘तो रवि ने मुझे बुलाया और मुझसे एक प्लान बनाने को कहा, जिससे कि हम ऑस्ट्रेलिया बल्लेबाजों के ऑफ साइड के रनों पर रोक लगा सकें। उन्होंने कहा कि हम सीधी लाइन पर अटैक करेंगे और ऑन साइड की फील्डिंग रखेंगे, जिससे बल्लेबाजों के लिए हर बार ऑन साइड की फील्ड को पार करना आसान नहीं होगा। यह हमारे लिए काफी काम आया। इस आइडिया की शुरुआत जुलाई में हुई थी, जब हमने विराट कोहली के साथ इस पर बातचीत की थी।’ अरुण ने कहा कि हमने इस प्लान को एडिलेड में भी इस्तेमाल किया और रहाणे मेलबर्न के बाद से काफी शानदार रहे। उन्होंने कहा कि हमारे गेंदबाजों ने इस पर काफी अच्छे से काम किया।