कोरोना काल मे मधुर संगीत सुनाने मिशा शर्मा का नाम इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड 2021 में दर्ज *

मध्यप्रदेश के हरदा जिले की गायिका श्रीमति मिशा शर्मा ने निर्गुण व शास्त्रीय संगीत की मधुर स्वर लहरियों से लगभग 166 देशों को कोरोना जैसे संकट काल में ऑफ़लाइन माध्यम से अलग अलग मंच से अपने संगीत को जनगण तक प्रसार किया, श्रीमति मिशा शर्मा जन सरोकार टोक मंच संस्था की सम्मानित कलाकार हैं और उन्होंने स्ंसत में भी अपना प्रस्तुतीकरण दिया है, मध्यप्रदेश की बेटी ने इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में अपना नाम दर्ज कराया है। मिशा शर्मा ने अपने पति संगीतज्ञ सुमित शर्मा के साथ लगातार संगीत सेवा कर इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में स्थान बनाया है। डाँसपति! सुमित व मिशा शर्मा ने कोरोना विभिषिका काल में मनोरंजन और पुरातन कला संरक्षण के उद्देश्य से सोशल मीडिया पर लगातार अपने गायन से लोगों को आनंदित किया। सुमित ने बताया कि उन्होंने कई देशों में सोशल मीडिया के माध्यम से गायन की प्रस्तुतियां दीगई। 26 जनवरी को एक न्यूज चैनल के माध्यम से लगभग 166 देशों के भारतीयों ने अपने लाइव देशभक्ति गायन का आनंद भी लिया। जून से लेकर दिसंबर तक लगातार संगीत के जरिये अपनी सेवा दी। इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स की टीम ने उनके इस कार्य का अवलोकन किया और मिशा शर्मा का नाम अप्रेशियन में दर्ज कर प्रतिष्ठित प्रदान किया गया।