अंकिता लोखंडे ने सुशांत सिंह राजपूत के फैन्स को दिया जवाब, बोलीं- आप नहीं जानते मेरी स्टोरी, तो मुझे ब्लेम करना बंद करो

अंकिता लोखंडे को सोशल मीडिया पर दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत को लेकर अक्सर ट्रोल किया जाता है। अब उन्होंने इंस्टाग्राम पर लाइव सेशन किया और सुशांत के फैन्स से अपील की है कि वे उनकी छवि खराब न करें। उन्होंने कहा कि कोई भी उनकी कहानी नहीं जानता है। जब सोशल मीडिया पर कोई गंदे कमेंट करता है तो उन्हें बहुत बुरा लगता है और इसका असर उनकी फैमिली पर भी पड़ता है।

इंस्टाग्राम लाइव में अंकिता लोखंडे ने बताया कि उनके डांस वीडियो और अन्य पोस्ट पर लोग गंदे कमेंट्स करते हैं, अगर लोगों को उनकी सोशल मीडिया एक्टिविटी से कोई प्रॉब्लम है तो वे उन्हें अनफॉलो कर सकते हैं। अंकिता कहती हैं, ”जो चीजें मुझे अच्छी नहीं लगती, मैं फॉलो नहीं करती, लेकिन मैं दूसरों के अकाउंट पर जाकर उनको गालियां भी नहीं देती हूं।”

अंकिता ने बताया कि ट्रोलिंग से उन्हें फर्क नहीं पड़ता है लेकिन लेकिन उनकी फैमिली पर इसका बहुत प्रभाव पड़ता है, जो इंडस्ट्री से नहीं है। उन्होंने कहा, ”उनके (परिवार) के लिए डाइजेस्ट करना बहुत मुश्किल है कि लोग ऐसे क्यों गालियां देते हैं और मैंने ऐसा क्या गलत किया है।” लाइव सेशन के दौरान अंकिता ने यह भी कहा कि जिन लोगों को सुशांत सिंह राजपूत के साथ उनके रिलेशनशिप के बारे में पता नहीं है। वे उन्हें ब्लेम कर रहे हैं जबकि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। उन्होंने कहा कि किसी को भी किसी के रिलेशनशिप को जज करने और उस पर उंगली उठाने का अधिकार नहीं है।

वीडियो में अंकिता कहती हैं, ”जो लोग आज मुझपर उंगली उठा रहे हैं वो मेरे रिश्ते को जानते ही नहीं थी शायद। और इतना ही आपको था प्यार, तो अब कौन क्यों लड़ रहे हो? पहले कहां थे आप लोग जब सारी चीजें खत्म हो रही थी हमारी लाइफ में। आज मुझे ब्लेम किया जाता है, पर मेरी कोई गलती ही नहीं है।”

अंकिता ने आगे कहा, ”सबकी अपनी-अपनी मोटिव्स होती हैं लाइफ में। सुशांत हमेशा लाइफ में आगे बढ़ना चाहता था और उसने वही किया। वो चला गया अपने रास्ते। उसके लिए मैं कहां गलत साबित होती हूं? मुझे क्यों गालियां दी जाती हैं? मैंने क्या गलत किया है? जब आप नहीं जानते कि मेरी स्टोरी क्या है, तो मुझे ब्लेम करना बंद करें। यह बहुत दुखद है।”

बताते चलें कि सुशांत सिंह राजपूत का पिछले साल 14 जून को निधन हो गया था। उनका शव मुंबई स्थित उनके घर पर मृत पाया गया था। शुरुआत में मुंबई पुलिस इस केस में जांच कर रही थी लेकिन बाद में केस को सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया गया।