अपने पुराने खाते को जन धन खाते में बदलकर पाएं ये मुफ्त सुविधाएं

यदि आपका कोई पुराना बैंक खाता है तो उसे भी जन धन खाता में आसानी से बदलवा सकते हैं। इसके लिए आपको बैंक ब्रांच में जाकर रुपे कार्ड के लिए आवेदन करना होगा। इसके बाद एक फॉर्म भरते ही आपका बैंक खाता जन धन योजना में बदल दिया जाएगा। वहीं, अगर आप अपना नया जन धन खाता खोलना चाहते हैं इसके लिए बैंक में आपको एक फॉर्म भरना होगा। उसमें नाम, मोबाइल नंबर, बैंक ब्रांच का नाम, आवेदक का पता, नॉमिनी, व्यवसाय/रोजगार और वार्षिक आय व आश्रितों की संख्या, एसएसए कोड या वार्ड नंबर, विलेज कोड या टाउन कोड आदि की जानकारी देनी होगी।

जन धन खाते में मुफ्त में कई सुविधाएं

  • जन धन खाता है तो आप ओवरड्रॉफ्ट के जरिए अपने खाते से अतिरिक्त 10 हजार रुपये तक निकाल सकते हैं।
  • दो लाख रुपये तक दुर्घटना बीमा कवर और 30 हजार रुपये तक का जीवन बीमा कवर मिलता है।
  • खाते के साथ मुफ्त मोबाइल बैंकिंग की सुविधा दी जाती है।
  • जन धन खाता खोलने वाले को रुपे डेबिट कार्ड दिया जाता है। जन धन खाता है तो पीएम किसान और श्रमयोगी मानधन जैसी योजनाओं में पेंशन के लिए खाता आसानी से खुल जाता है।

बैंकरों और विशेषज्ञों का कहना है कि सरकार के नियमों के मुताबिक एक व्यक्ति का एक ही जन धन खाता हो सकता है। ऐसे में कोई व्यक्ति दूसरा खाता खुलवाने जाता है तो दस्तावेज से तुरंत यह जानकारी मिल जाती है कि पहले से किसी दूसरे बैंक में जन धन खाता खुला हुआ है। इस स्थिति में बैंक जन धन खाता नहीं खोलते। हालांकि,  विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि अपने लिए खर्चीला होने की वजह से निजी बैंक जन धन खाता खोलने से दूर भागते हैं। इसे जीरो बैलेंस पर खोलना पड़ता है और किसी भी सेवा के लिए शुल्क वसूलने की अनुमति नहीं है।