लॉकडाउन से ज्यादा कोविड कर्फ्यू में सुधरी हवा, जानिए देहरादून समेत अन्य शहरों का प्रदूषण स्तर

उत्तराखंड के ज्यादातर नगरों में कोविड कर्फ्यू के दौरान हवा शुद्ध हो गई। चौंकाने वाली बात ये है कि हल्द्वानी व ऋषिकेश में गतवर्ष लगे लॉकडाउन की तुलना में कोविड कर्फ्यू के दौरान हवा ज्यादा शुद्ध हुई है। हालांकि, काशीपुर में वायु प्रदूषण में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। उत्तराखंड पर्यावरण संरक्षण एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने रविवार को एयर क्वालिटी इंडेक्स के आंकड़े जारी किए। आंकड़ों के अनुसार, गतवर्ष लॉकडाउन में मई में हल्द्वानी व ऋषिकेश का एयर क्वालिटी इंडेक्स 92-92 था, जो इस साल मई में क्रमश: 79 और 89 पाया गया। इसका मतलब है कि पिछले साल इन दोनों शहरों में लॉकडाउन में सब कुछ बंद होने के बाद हवा जितनी शुद्ध हुई, इस बार कोविड कफ्र्यू में कई सेवाएं खुली होने के बावजूद हवा उससे ज्यादा शुद्ध पाई गई।

दून-हरिद्वार में भी साफ हुई हवा : देहरादून में इस साल मार्च में एयर क्वालिटी इंडेक्स 237 था, जो मई में 127, हरिद्वार में मार्च में 120 था जो मई में 101 दर्ज किया गया। काशीपुर में मार्च में एयर क्वालिटी इंडेक्स 114 था, जो मई में 116 हो गया। रुद्रपुर में मार्च में और मई में एयर क्वालिटी इंडेक्स 119 ही दर्ज किया गया।

मई में ज्यादा बारिश और हवा भी वजह
प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के पर्यावरण वैज्ञानिक डॉ. अंकुर कंसल ने बताया कि राज्य में ज्यादा बारिश और हवा बाहर की ओर चलना, एयर क्वालिटी इंडेक्स में सुधार की वजह हो सकती है हालांकि कोविड कफ्र्यू भी बड़ी वजह है।

ये दिखाता है एयर क्वालिटी इंडेक्स
0 से 50 अच्छा
51 से 100 संतोषजनक
101 से 200 हल्का खराब
201 से 300 खराब
301 से 400 बहुत खराब
401  से ऊपर खतरनाक