विधायक के आश्वासन के बाद पैंथर हमले में मृत महिलाओं का कराया पोस्टमार्टम

(अजय शेखर सेदावत)
गुडला बनास नदी पेटे में एक पैंथर व दो शावकों के हमले से हुई थी दो महिलाओं की मौत।
बौंली–– उपखंड क्षेत्र के गुडला नदी गांव स्थित बनास नदी पेटे में शनिवार को पैंथर के हमले में दो महिलाओं की मौत हो गई ।महिलाओं की मौत के बाद ग्रामीणों में आक्रोश पनप गया। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे पुलिस, प्रशासन व वन विभाग के अधिकारियों के समक्ष ग्रामीणों ने अपना रोष जताया व विधायक को मौके पर बुलाने की मांग पर अड़े रहे। पुलिस व प्रशासन के अधिकारी मृत महिलाओं के पोस्टमार्टम के लिए ग्रामीणों की समझाइश करते रहे । बाद में बामनवास विधायक श्रीमती इंदिरा मीणा भी मौके पर पहुंच गई। ग्रामीणों ने विधायक के समक्ष मृत महिलाओं के परिवार जनों को आर्थिक सहायता देने की मांग रखी इस पर विधायक ने मौके पर मौजूद वन विभाग के कार्यवाहक रेंजर से चर्चा की। वन विभाग के मापदंडों के मुताबिक महिलाओं के परिवारजनों को आर्थिक मुआवजा देने का आश्वासन दिया। कार्यवाहक रेंजर लक्ष्मीकांत जैमन ने बताया कि विधायक के आश्वासन देने के बाद मौके पर ही मेडिकल टीम को बुलाकर दोनों मृत महिलाओं का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करा शव परिजनों के सुपुर्द किया गया । महिलाओं की पेंथर से हमले कि उच्चाधिकारियों को सूचना दें उनके मुआवजे की कार्रवाई शुरू की गई ।जैमन के मुताबिक दोनों महिलाओं पर बकरियां चराने के दौरान एक पैंथर व 2 शावकों ने हमला किया जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई थी। गौरतलब है कि गुडला नदी निवासी 2 महिलाएं शनिवार दोपहर को बनास नदी पेटे में अपनी बकरियां चराने गई थी कि दोपहर बाद एक पैंथर व उसके दो शावकों ने बकरियों पर हमला कर दिया तथा बकरियों को बचाने के चक्कर में बाद में पैंथर ने महिलाओं को अपना शिकार बना डाला इससे गुडला नदी निवासी दोनों महिलाओं की मौके पर ही मौत हो गई। महिलाओं की मौत के बाद मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई व पुलिस ,प्रशासन व वन विभाग के अधिकारी कार्मिक मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझाइश की लेकिन ग्रामीण विधायक को मौके पर बुलाने की जिद पर अड़े रहे। बाद में विधायक के मौके पर पहुंचने के बाद आर्थिक मुआवजा देने के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ । पैंथरों के इस हमले में गुडला नदी निवासी श्रीमती शांति पत्नी स्वर्गीय मोहन लाल बैरवा व श्रीमती राजंती पत्नी हीरालाल बैरवा की मौत हो गई थी।