गुरु हरकिशन अस्पताल 13 अगस्त से होगा शुरू, ऐसे मरीजों को इलाज में मिलेगी 50 फीसदी छूट

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी (डीएसजीएमसी) का 125 बेड वाला गुरु हरकिशन अस्पताल 13 अगस्त से शुरू हो जाएगा। कोरोना की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए डीएसजीएमसी सराय काले खां स्थित बाला साहिब गुरुद्वारा परिसर में अस्पताल को कोरोना अस्पताल की तरह विकसित कर रहा है।

डीएसजीएमसी अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा के अनुसार, गुरु हरिकृष्ण अस्पताल 13 अगस्त को बाबा बचन सिंह जी कार सेवा वाले संगतों को समर्पित करेंगे। इससे पहले 13 अगस्त को सुबह 10:30 बजे अरदास समागम रखा गया है, जिसमें अरदास के पश्चात यह अस्पताल बाबा बचन सिंह जी संगत को समर्पित करेंगे।

डीएसजीएमसी अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया कि यह अति आधुनिक अस्पताल संगत के सहयोग के माध्यम से शुरू किया जा रहा है जो रिकॉर्ड 60 दिनों में ही तैयार हो जाएगा। उन्होंने बताया कि अस्पताल के लिए फ्रांस, अमेरिका व ऑस्ट्रेलिया की सरकारों ने भी विशेष सहयोग किया है व बाकी दिल्ली की संगत ने अस्पताल के निर्माण के लिए बढ़-चढ़ कर योगदान किया है।

जांच की सुविधा के साथ बच्चों के लिए अलग अस्पताल

डीएसजीएमसी अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा के मुताबिक, अस्पताल में पैथोलॉजी लैब समेत अन्य विभिन्न जांचों की सुविधा होगी। अस्पताल में कोरोना के इलाज के लिए भी इंतजाम किए गए हैं और बच्चों के लिए अलग वार्ड भी बनाया गया है। उन्होंने बताया कि जिन मरीजों की दिल्ली की सिंह सभाओं की ओर से सिफारिश की जाएगी उन्हें इलाज में 50 फीसदी छूट दी जाएगी।