समता आंदोलन का स्थापना दिवस आयोजित

  (अजय शेखर सेदावत)
जयपुर–-क्षेत्र के सी स्कीम स्थित महावीर जैन स्कूल जयपुर में बुधवार को समता आंदोलन का 15 वां स्थापना दिवस समारोहपूर्वक मनाया गया। इस अवसर पर वयोवृद्ध संरक्षक जस्टिस पानाचंद जैन ने कहा कि समता आंदोलन की गतिविधियां देश को श्रेष्ठ देश बनाने वाली हैं। संरक्षक जस्टिस करणी सिंह राठौड़ ने कहा कि वे समता आंदोलन के राष्ट्रवादी उद्देश्यों और संवैधानिक कार्यशैली से बहुत प्रभावित हैं और वे अब इस आंदोलन को सतत सक्रिय सहयोग देने के लिए तत्पर हैं। संरक्षक एवं पूर्व आई ए एस भागीरथ शर्मा ने कहा कि समता आंदोलन के उद्देश्यों की पूर्ति होने पर देश मे सर्वे भवंतु सुखिनः की स्थिति पैदा हो जाएगी।साउथ कोरिया में सनातन धर्म पर आधारित विश्व विद्यालय स्थापित करने वाले प्रोफेसर राजेश राज ने “सनातन मे समतावाद विषय पर सारगर्भित उद्बोधन दिया जिसे PPT के माध्यम से समझाया गया। राजपूत सभा के अध्यक्ष रामसिंह चंदलाई ने समता आंदोलन के साथ हर कदम पर सहयोग का आश्वासन दिया। जयपुर व्यापार मंडल के अध्यक्ष ललित सिंह सांचोरा ने समता आंदोलन को पूरे व्यवसायियों के सहयोग का आश्वासन दिया। इस अवसर पर समता आंदोलन के उद्देश्यों, गतिविधियों, कार्यशैली, लक्ष्यों, उपलब्धियों और भावी योजनाओं को दर्शाने वाली आधा घण्टे की डोक्यूमेंटोरी का भी लोकार्पण किया गया।समता आंदोलन के अध्यक्ष पाराशर नारायण शर्मा ने पिछले दो वर्षों की गतिविधियों की जानकारी देते हुए बताया कि अशोक गहलोत की सरकार इस कार्यकाल मे भी जातिगत आधार पर non sc-st नागरिकों को प्रताड़ित करने वाले कार्य कर रही है। जातिगत आधार पर प्रशासनिक अधिकारों का दुरूपयोग करने वाले अधिकारियों को संरक्षण व प्रोत्साहन दे रही है।समता आंदोलन अशोक गहलोत की सभी जातिवादी गतिविधियों को एकत्र कर रहा है जिन्हें गहलोत के मतदाताओं को बता कर अगले विधानसभा चुनावों मे इन्हें हराने की पुरजोर कवायद की जाएगी।समारोह को संघ शक्ति के संयोजक महावीर सिंह सरवडि, माहेश्वरी समाज के अध्यक्ष प्रदीप बाहेती, संभाग अध्यक्ष ऋषिराज राठौड़, महामंत्री राम निरंजन गोड़ एवं विमल चोरडिया, जिलाध्यक्ष दीपक सिंगल, स्कूल शिक्षा सेवा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष बाबूलाल विजय, चिकित्सा सेवा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष श्याम सुंदर सेवदा, संस्थापक सदस्य नवरंग सिंगरोदिया आदि ने संबोधित किया। मंच संचालन विकास शर्मा ने किया।