सवाईमाधोपुर में बिजली विभाग के एईएन व लाईनमेन को एसीबी ने घूस लेते रंगे हाथ किया गिरफ्तार

(अजय शेखर सेदावत)

 आवास व अन्य ठिकानों पर तलाशी जारी
सवाई माधोपुर— भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो सवाई माधोपुर इकाई ने शुक्रवार को जिला मुख्यालय पर एसीबी मुख्यालय के निर्देश पर कार्रवाई करते हुए विद्युत निगम के एक सहायक अभियंता व लाइनमेन को परिवादी से ₹40000 की घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के साथ ही एसीबी की टीम द्वारा दोनों आरोपियों के आवास व अन्य ठिकानों पर तलाशी अभियान शुरू किया गया है। एसीबी के महानिदेशक बीएल सोनी ने बताया कि एसीबी सवाई माधोपुर इकाई को परिवादी ने सवाई माधोपुर में उसके निर्माणाधीन मकान के मेन गेट के सामने खड़े विद्युत पोल को हटाने के लिए लाइनमेन आशाराम मीणा के द्वारा सहायक अभियंता महेश सैनी व स्वयं के लिए ₹40000 की रिश्वत राशि मांग करके परेशान किया जा रहा है। परिवादी की शिकायत पर एसीबी सवाई माधोपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र कुमार शर्मा के नेतृत्व में टीम ने शिकायत का सत्यापन किया जिसमें शिकायत सही मिलने पर टीम ने महेश सैनी पुत्र हंसराज सैनी निवासी सांभरलेक जिला जयपुर हाल सहायक अभियंता ए वन जेवीवीएनएल सवाई माधोपुर व आशाराम मीना पुत्र घनश्याम मीणा निवासी गंभीरा तहसील व जिला सवाई माधोपुर हाल लाइनमेन कार्यालय कनिष्ठ अभियंता आलनपुर जेवीवीएनएल सवाईमाधोपुर को ₹40000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एमएन के निर्देशन में गिरफ्तार आरोपियों के आवास व अन्य ठिकानों पर टीम के द्वारा तलाशी की जा रही है ।दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद एसीबी ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। विद्युत निगम कार्यालय के सहायक अभियंता व लाइनमेन को एसीबी टीम के द्वारा रिश्वत प्रकरण में गिरफ्तार करने के साथ ही निगम के अन्य कार्मिकों में हड़कंप मच गया ।