कठुआ रेप और मर्डर केसी की सीबीआई जांच की मांग रहेगी मेरा चुनावी मुद्दा : लाल सिंह

जम्मू: भाजपा के फायाब्रांड नेता चौधरी लाल सिंह अब पार्टी का साथ छोड़ चुके हैं। वह लोकसभा चुनाव अपने बूते पर लडऩे की तैयारी कर रहे हैं और उन्होंने कहा है कि कठुआ के रेप और मर्डर केस में सीबीआई जांच की मांग चुनावों में उनका प्रमुख मुद्दा रहेगा। उन्होंने डोगरा स्वाभिमान संगठन नामक अपनी खुद की पार्टी बनाई है और उसी के बल पर चुनावी मैदान में उतरेंगे।

लाल सिंह ने संगठन की नींव पिछले वर्ष जुलाई में रखी थी। यह संगठन उनका मुख्य मकसद था और उन्होंने सीबीआई जांच की मांग के सौ दिन पूरे होने के बाद 22 जुलाई को संगठन बनाया। सिंह ने कहा कि हम पहले भी सीबीआई की जांच की मांग कर रहे थे और आगे भी करेंगे और इस मांग को पूरा करवाएंगे। उन्होंने कहा कि डोगरों को देशभर में बदनाम करने की साजिश की गई है और ऐसा होने नहीं दिया जाएगा।

क्या है कठुआ मामला
पिछले वर्ष 17 जनवरी को कठुआ में एक घुमंतू समुदाय की आठ वर्षीय बच्ची का सामूहिक रेप के बाद मर्डर होने से पूरे देश में सनसनी फैल गई थी। बच्ची घर से घोड़े चराने गई थी और उसके बाद लापता हो गई थी। एक सप्ताह के बाद उसकी लाश जंगल में मिली थी। उसकी निर्मम तरीके से हत्या की गई थी और पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में रेप की भी पुष्टि हुई थी।

सात आरोपी पुलिस हिरासत में
इस मामले में गांव के कुछ लोगों सहित पुलिस के कर्मी भी हिरासत में हैं। कुल सात लोगों पर मुकदमा चल रहा है। यह मामला पठानकोट कोर्ट में चल रहा है और इसकी सुनवाई रोज होती है।