देवभूमि में PM पर बरसे राहुल, कहा- पुलवामा हमले के बाद भी वीडियो शूट में लगे रहे मोदी

देरहादूनः कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में परिवर्तन रैली को संबोधित करते हुए पुलवामा हमले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जब हमला हुआ तो हमने अपना स्टैंड क्लीकर किया कि पार्टी सेना और देश के साथ खड़ी है। हमने सभी कार्यक्रमों को रद्द कर दिया, लेकिन हमले के बाद भी प्रधानमंत्री वीडियो बनवा रहे थे। वह अलग-अगल पोज में फोटो खिंचवा रहे थे।

राफेल दुनिया का सबसे बड़ा रक्षा सौदा
राहुल ने कहा कि अनिल अंबानी में मोदी ने क्या खूबी देखी जो सबसे बड़ा कांट्रैक्ट उसे दिया गया। अंबानी कागज का हवाई जहाज भी नहीं बना पाएंगे। फ्रांस में HAL को दरकिनार कर अंबानी को कांट्रैक्ट मिला। अनिल अंबानी के साथ मोदी फ्रांस भी गए थे। राफेल पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि 526 करोड़ रुपये का विमान मोदी ने 1600 करोड़ रुपये में खरीदा। 10 दिन पुरानी कंपनी को राफेल का कांट्रैक्ट मिला। उन्होंने कहा कि राफेल दुनिया का सबसे बड़ा रक्षा सौदा है।

हमारी सरकार आने के बाद होगा एक टैक्स 
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “मैं एक बड़ी घोषणा कर रहा हूं। हम जीएसटी को सच्ची जीएसटी में बदलने वाले हैं। हमारी सरकार आने के बाद एक टैक्स होगा। नरेंद्र मोदी की भयंकर गलती की माफी मैं आप लोगों से मांगता हूं।”वहीं इस दौरान उन्होंने मनीष खंडूड़ी का कांग्रेस में स्वागत किया। उन्होंने कहा बीसी खंडूड़ी ने पूरी जिंदगी देश को समर्पित की, लेकिन बीजेपी ने उनका अपमान किया। बीजेपी में सच्चाई की कोई जगह नहीं है। उन्हें सच बोलने की सजा मिली है। साथ ही उन्होंने कहा कि उत्तराखंड की पवित्र भूमि पर आकर मुझे खुशी हुई। फौज में उत्तराखंड के काफी युवा हैं। उत्तराखंड के सैंकड़ों जवान हर रोज देश की रक्षा करते हैं। राष्ट्रीय सुरक्षा में योगदान के लिए मैं उत्तराखंड का धन्यवाद करता हूं।रैली के बाद राहुल गांधी दून के तीनों शहीदों के परिवारों के घर जाएंगे। तय कार्यक्रम के अनुसार वे सबसे पहले मेजर चित्रेश बिष्ट, इसके बाद मोहन लाल रतूड़ी और मेजर विभूति ढौंडियाल के घर जाएंगे। ज्ञात हो कि, राहुल की परिवर्तन रैली को लेकर पुलिस के द्वारा सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। ट्रैफिक पुलिस ने रूट डायवर्ट कर दिए हैं। इसके साथ ही परेड ग्राउंड के चारों तरफ वाहनों और ठेलियों के आने पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया गया है। वहीं ट्रैफिक पुलिस के द्वारा शहर में वीवीआईपी दौरे के दौरान लोगों से वैकल्पिक मार्गों के प्रयोग करने का अनुरोध किया है, ताकि लोगों को परेशानी का सामना ना करना पड़े।