न्यूजीलैंड मस्जिद हमला: मृतकों की संख्या 50 हुई, मरने वालों में भारत के 5 व PAK के 4 नागरिक

नई दिल्ली/इस्लामाबाद/वेलिंगटन: न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में जुमे की नमाज के दौरान दो मस्जिदों में हुए हमले में मारे गए 50 लोगों में पांच भारतीय भी शामिल हैं। भारतीय उच्चायोग ने रविवार को इस बात की पुष्टि की कि हमले में पांच भारतीयों की मौत हुई है। उच्चायोग ने ट्वीट किया कि अत्यंत दु:ख के साथ हम क्राइस्टचर्च में हुए भयावह आतंकवादी हमले में हमारे पांच नागरिकों की मौत की सूचना दे रहे हैं। मृतकों की पहचान महबूब खोखर, रमीज वोरा, आसिफ वोरा, अनसी अलीबावा तथा ओजैर कादिर के रूप में हुई है। उच्चायोग ने बाद में एक अन्य ट्वीट में सूचना दी कि न्यूजीलैंड के आव्रजन विभाग ने क्राइस्टचर्च में हमले की जद में आए लोगों के परिजनों के लिए वीजा संबंधी प्रक्रिया तेज करने के मकसद से एक वेबसाइट (https//www.immigration.govt.nz/about-us/media-centre/news-notifications/family-members-of-mosque-incident) शुरू की है।

मस्जिदों पर हुए हमलों में 4 पाक नागरिकों की भी मौत हो गई। हमले में बंगलादेश के 2 नागरिक भी मारे गए और 5 अन्य घायल हो गए।

उल्लेखनीय है कि एक दक्षिणपंथी अतिवादी ब्रेंटन टैरेंट ने जुम्मे की नमाज के दौरान मस्जिदों पर हमला किया था। बुश ने बताया कि हमलों के समय पुलिस की घेरेबंदी के दौरान गिरफ्तार किए गए दो संदिग्धों का इस हमले से सीधा संबंध नहीं है। दोनों संदिग्धों में से एक महिला है। उसे रिहा कर दिया गया है और दूसरे संदिग्ध के वाहन में हथियार मिले थे इसलिए वह हिरासत में है।

उन्होंने बताया कि मामले में गिरफ्तार एक अन्य व्यक्ति को सोमवार को अदालत में पेश किया जाएगा, हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि वह भी गोलीबारी में शामिल नहीं था। बुश ने टैरेंट का जिक्र करते हुए कहा कि इस समय, हमले के संबंध में केवल एक व्यक्ति पर आरोप लगाए गए हैं।