लालू प्रसाद यादव के वार्ड में छापेमारी, चुनाव आयोग के निर्देश पर सर्च ऑपरेशन

रांची, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री सह राजद सुप्रीमो और चारा घोटाले के चार मामलों के सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव के रिम्स स्थित पेइंग वार्ड में शनिवार देर शाम को जेल प्रशासन व जिला पुलिस का छापा पड़ा। जेल आइजी वीरेंद्र भूषण के आदेश पर यह छापेमारी की गई। लोकसभा चुनाव-2019 के पूर्व राजनीतिक सरगर्मी को देखते हुए राज्‍य चुनाव आयोग की गाइडलाइंस के अनुसार ही जेल के अधिकारियों ने जिला पुलिस के अधिकारियों के साथ उनके वार्ड में सर्च ऑपरेशन चलाया। हालांकि इस दौरान लालू के रिम्‍स पेइंग वार्ड से कोई आपत्तिजनक चीज नहीं मिली।

शाम करीब पांच बजे चले इस सर्च ऑपरेशन में वार्ड से कोई आपत्तिजनक वस्तु बरामद नहीं की गई है। छापेमारी टीम में काराधीक्षक अशोक कुमार चौधरी, जेलर चंद्रशेखर प्रसाद सुमन, डीएसपी सदर दीपक पांडेय, बरियातू थानेदार संजीव कुमार, रिम्स में लालू प्रसाद यादव की सुरक्षा में तैनात इंस्पेक्टर नारायण प्रजापति, जिला पुलिस के दस जवान व जेल के सिपाही शामिल थे।

बताया गया कि लोकसभा चुनाव को लेकर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व रेल मंत्री राष्‍ट्रीय जनता दल के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष लालू प्रसाद यादव की गतिविधियों पर प्रशासन की पैनी नजर है, ताकि लोकसभा चुनाव के लिए लागू आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन सहित जेल मैनुअल की अवहेलना न होने पाए। कहा जा रहा है कि शनिवार को उनसे कई मुलाकाती मिलने पहुंचे थे। ऐसे में प्रशासन के साथ ही चुनाव आयोग ने भी अपने कान खड़े कर रखे थे। चुनाव को प्रभावित करने की गुंजाइशों को देखते हुए ही लालू प्रसाद यादव के वार्ड में छापेमारी की गई है।