गलियों में झूलते जर्जर तारों से पब्लिक परेशान, अफसर अंजान

प्रदीप कुमार 

कायमगंज : नेहरू नगर वार्ड के मुहल्ला पृथ्वी दरवाजा की गलियों में प्रमुख समस्या झूलते हुए खतरनाक बिजली के तारों, बिना पोल छज्जों के सहारे लटकती केबलों, जन जागरूकता के अभाव में गंदगी की है। बैंक आफ इंडिया वाली गली के अंदर राधेश्याम अग्रवाल के मकान के पास नाली क्रास का लोहे का चैनल टूटा पड़ा है। जरूरत मंद निर्धनों को आवास आवंटित नहीं हुए। वहीं इस वार्ड में बेसिक शिक्षा विभाग का ऐसा स्कूल भी है, जहां किराए के स्कूल भवन में एक भी कमरा नहीं है। सिर्फ एक टिन शेड पड़ा है। नागरिकों का दर्द..

डा. सन्नूलाल वाली गली में बिजली के पुराने जर्जर तार ही पड़े हैं। जिनकी ऊंचाई इतनी कम है कि वह घरों की चौखट छू रहे हैं। साढ़े पांच फुट ऊंचाई पर लगे यह बिजली के तार जरा सी असावधानी में लोगों के सिरों को छूने की स्थिति में हैं।

– प्रभा बीआर कांवेंट वाली गली में परिवार मोमियां की छत वाले कच्चे घर में जीवन यापन कर रहा है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत उन्होंने आवेदन किया था। अभी तक आवास निर्माण की पहली किश्त भी नहीं आई है। जबकि कई लोगों के आवास बन भी चुके हैं।

– बसंती देवी पत्?नी पत्?नी सुनील बाथम लोगों में सफाई के प्रति जागरूकता का अभाव है, कई घरों ने तो अपनी छतों के ऊपर ड्रेन पाइप न लगवा पाइपों के मुंह ऊपर से ही गली में खोल दिए हैं, जिससे गंदा पानी सीधा गली में फैलता है। कई लोग सफाई हो जाने व कूड़ा उठ जाने के बाद घरों से कूड़ा फेंकते हैं।

– राकेश अग्रवाल मंजू अग्रवाल वाली गली में नुक्कड़ पर पोल न लग पाने से गली में छज्जों से बंधी बंच केबल झूल रही है। हालांकि पोल लगने के लिए आया था, लेकिन लोगों ने अपने घर या भूखंड के पास सरकारी गली में भी पोल लगने नहीं दिया।

– आदेश दीक्षित निर्माण प्रस्ताव दिए, जो लंबित है

वार्ड में सफाई, पेयजल व स्ट्रीट लाइट आदि व्यवस्थाएं दुरुस्त हैं। विद्युत तार ठीक कराने को बिजल विभाग के अधिकारियों से संपर्क किया जाएगा। करीब 15 लोगों के पीएम आवास योजना में आवेदन भरे गए। जिसमें सात स्वीकृत हो गए हैं। किश्त चुनाव के बाद ही आ सकेगी।