विवाहिता की मौत के मामले में पति आैर ससुर सहित 11 लोग गिरफ्तार

गणेश योगी 

थाना क्षेत्र के राजकोट में करीब दो माह पहले संदिग्ध अवस्था में हुई मौत के मामले में पुलिस ने सोमवार को ससुराल पक्ष के पति,ससुर सहित 11 जनों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। जहां से उन्हें जेल भेज दिया।

थानाप्रभारी नरेश कंवर ने बताया कि देवली थाना क्षेत्र के बांस लक्ष्मणा निवासी विवाहिता अनिता की शादी तीन-चार साल पहले राजकोट निवासी मनराज मीणा के साथ हुई थी। 16 जनवरी की रात को अचानक संदिग्ध परिस्थितियों में अनिता मीणा की मौत हो गई थी। मौत की जानकारी मिलने के बाद अनिता मीणा के ससुराल प़्ाक्ष के लोगों में हडकंप मच गया। सबूत नष्ट करने की नीयत से ससुराल पक्ष के लोगों ने महिला के शव का अंतिम संस्का कर दिया।

दहेज हत्या व सबूत नष्ट करने का मामला दर्ज

विवाहिता की मौत के मामले में देवली थाना क्षेत्र के बांसलक्ष्मणा निवासी मृतका के पिता रामदेव मीणा ने राजकोट निवासी मृतका के पति मनराज मीणा,जेठ दिलराज मीणा,सास कमला मीणा,ससुर रामलाल मीणा सहित चार जनों के खिलाफ दहेज हत्या व हत्या के बाद शव को जलाकर अंतिम संस्कार कर सबुत नष्ट करने का मामला दर्ज करवाया गया था। पुलिस ने इस मामले में फरार चल रहे आरोपी दूनी थाना क्षेत्र के राजकोट निवासी जेठ दिलराज मीणा पुत्र रामलाल मीणा को पूर्व में गिरफ्तार किया जा चुका है।

ये हुए गिरफ्तार

थानाप्रभारी नरेश कंवर,डीवाईएसपी कार्यालय के हैड कांस्टेबल विनोद शर्मा ने बताया कि दो माह से इस मामले में फरार चल रहे राजकोट निवासी पति मनराज मीणा,ससुर रामलाल मीणा व रिश्तेदार दुर्गालाल पुत्र देवीलाल मीणा, फोरू लाल पुत्र देवीलाल, प्रभु, जयसिंह, भोलु, पोखर पुत्र देवीलाल,जगदीश पुत्र पोखर, छोटु मीणा व देवपुरा निवासी दुर्गा लाल पुत्र बिरधी लाल मीणा को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। जहां से जेल भेज दिया गया। राजकोट निवासी अनिता व उसकी बहिन का ससुराल एक ही घर में राजकोट में हुआ था। पिता की आर्थिक कमजोरी के चलते दोनों बहिनों की सामूहिक विवाह सम्मेलन में शादी हुई थी। मृतक अनिता का पति राजकोट के 12 वीं कक्षा में अध्ययरनत है। बडी बहिन व उसके पति की अनबन के चलते पांच दिन पहले ही बडी बहिन ससुराल से अपने पीहर गई थी।