ईअाेडब्लू के गायब डीएसपी अचानक पहुंचे ड्यूटी पर, बयान भी दिया

नीलू सोनी 

रायपुर . नागरिक अापूर्ति निगम (नान) घाेटाले में साेमवार काे नया माेड़ अा गया जब र्इअाेडब्लू के गायब डीएसपी अारके दुबे साेमवार काे अचानक दफ्तर पहुंचे और ज्वाइनिंग भी दे दी। इसके बाद एसपी स्तर के दो अफसरों ने बंद कमरे में डीएसपी का बयान लिया है।  इस बयान के बाद नान घाेटाले के साथ फाेन टेपिंग की जांच में नया माेड़ अाने की संभावना है। डीएसपी दुबे के अचानक पहुंचने अाैर बयान देने के बाद पुलिस महकमे में भी चर्चाएं गर्म हो गई हैं।

डीएसपी दुबे ने 16 मार्र्च तक छुट्टी का अावेदन दिया था। शनिवार काे छुट्टियां खत्म हाे हुर्इं। उन्हाेंने काेर्ट में जिस तरह से अपने विभाग के अाला अफसराें में अाराेप लगाते हुए काेर्ट में अावेदन दिया है, उससे माना जा रहा था कि वे अपनी छुट्टियां बढ़ा लेंगे। उम्मीद से उलट दुबे दाेपहर बाद अाॅफिस पहुंचे अाैर उन्हाेंने अफसराें के पास पर्ची भेजकर मुलाकात की। अाला अफसराें से ड्यूटी ज्वाइन करने की इच्छा जाहिर की।

उनकी मंजूरी के बाद तुरंत उन्हाेंने ड्यूटी ज्वाइन की। उसके बाद अाला अफसराें ने उनका बयान लेना शुरू किया। करीब एक घंटे ही बयान लिया जा सका। लंच ब्रेक हाेने के बाद बयान नहीं लिया गया अाैर डीएसपी चले गए। अफसराें ने तय किया है कि मंगलवार काे फिर उनका बयान लिया जाएगा।

इसलिए बेहद अहम गवाह : डीएसपी दुबे फाेन टेपिंग के मामले में सबसे महत्वपूर्ण गवाह हैं। नान घाेटाले की जांच के पहले ईअाेडब्लू अाैर एंटी करप्शन ब्यूराे की टीम ने करीब छह महीने पहले नान में चल रही कथित धांधली का सबूत जुटाने के लिए फाेन टेपिंग शुरू की थी। नान घाेटाले की नए सिरे से जांच शुरू हाेने के दाैरान फाेन टेपिंग का भांडा फूटा अाैर पता चला कि तत्कालीन नान के अफसराें ने अवैध तरीके से फाेन टेपिंग की है।

इसके दस्तावेज तक हाथ लगने के दावे किए जा रहे हैं। नान मामले में अवैध फाेन टेपिंग करने में ईअाेडब्लू के तत्कालीन अफसराें निलंबित अाईपीएस मुकेश गुप्ता, एसपी रजनेश सिंह पर अपराधा पंजीबद्ध किया गया है। इसी मामले में डीएसपी दुबे ने पहले बयान दिया था कि उन पद दबाव डालकर अवैध फाेन टेपिंग करवायी गई है। बयान देने के कुछ घांटाें बाद ही उन्हाेंने काेर्ट में हलफनामा दिया कि उनसे जबरदस्ती बयान लिया गया है। इस मामले में उनसे दाेबारा बयान लिया जाना है।

वकील अानंद मोहन नए विशेेष लोक अभियोजक बनाए गए : राज्य सरकार ने वरिष्ठ अधिवक्ता ठाकुर अानंद माेहन सिंह काे नान मामले के लिए विशेष लाेक अभियाेजक नियुक्त किया है। वे केवल इसी मामले के लिए खासताैर पर नियुक्त िकए गए हैं। साेमवार काे उनकी पदस्थापना से संबंधित अादेशा जारी किए गए। इस नियुक्ति के जरिये सरकार ने यह संदेश देने की कोशिश की है कि इस मामले को लेकर अतिरिक्त गंभीरता बरती जा
रही है।

रेखा नायर का घर सील : अवैध फाेन टेपिंग अाैर अनुपातहीन मामले में फंसी र्इअाेडब्लू की गायब स्टेनाे रेखा नायर के मारुति साॅलिटियर स्थित मकान काे सील कर दिया गया है। उनके दरवाजे पर नाेटिस चस्पा कर जांच के लिए उपस्थित हाेने काे कहा गया है। रेखा के घर र्इअाेडब्लू का छापा मारा गया था। रेखा घर पर नहीं मिली। इस वजह से उसके मकान की जांच नहीं हाे सकी है। जांच के पहले घर में माैजूद दस्तावेजाें अाैर सामानाें के साथा किसी तरह की छेड़खानी न की जा सके, इसलिए ही बंगला सील किया गया है।