नगर पालिका के 39 में से 25 वार्डों में विसंगति परिसीमन में इनकी सीमाएं बदलने की संभावना

आरती शर्मा 

भिंड शहर की सीमा में कई ग्राम पंचायतें आ गई हैं। आलम यह है कि शहर कई मोहल्ले ऐसे हैं जो शहर में होने के बाद भी ग्राम पंचायतों में आते हैं। इन गांवों को अभी सीमावृद्धि में शहर में शामिल किया जा सकता था। लेकिन जिम्मेदारों की उदासीनता के चलते ऐसा नहीं हो सका। यहां बता दें कि विरधनपुरा, कीरतपुरा, रतनूपुरा, चंदनपुरा, भुजपुरा, कुम्हरौआ आदि में गांव में कॉलोनियां कट गई है।

15 अप्रैल को होना है वार्ड विभाजन का प्रथम प्रकाशन, अंतिम प्रकाशन 31 मई को

नगरपालिका ने वार्डों के विभाजन को लेकर प्रक्रिया शुरू नहीं की। जबकि वार्डों की संख्या निर्धारण के लिए 10 अप्रैल को अधिसूचना तो 15 अप्रैल को इसका प्रथम प्रकाशन होना है। 25 अप्रैल तक दावे-आपत्ति की सुनवाई के साथ उनका निराकरण के बाद वार्ड विभाजन का अंतिम प्रकाशन 31 मई को किया जाना है।

मेहगांव सीएमओ बोले अब समय नहीं बचा

मेहगांव नपं सीएमओ नत्थीलाल करोलिया का कहना है कि नगरीय निकाय सीमावृद्धि के संबंध में आदेश तो आया था। लेकिन परिषद में इस संबंध में कोई प्रस्ताव नहीं आया इसलिए यह कार्रवाई नहीं की गई। हालांकि वे यह जरूरत मानते हैं कि मेहगांव नगर की सीमा से कंहारी, देवरी, खेरियातौर जैसे गांव जुड़ गए हैं। लेकिन जनप्रतिनिधियों ने इस संबंध मांग नहीं की। वहीं अब शामिल करने के लिए समय नहीं बचा है।