लोकसभा चुनाव की घोषणा होते ही पुलिस प्रशासन अर्लट हो गया

पार्थो चक्रवर्ती छ, ग हैड । लोकसभा चुनाव की घोषणा होते ही पुलिस प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। 10 मार्च को चुनाव आचार संहिता लगते ही पुलिस ने सडक़ों पर उतरकर मोर्चा संभाल लिया।

देर रात तक पुलिस ने सडक़ों पर चैकिंग अभियान चलाकर वाहनों की तलाशी ली। लोकसभा चुनाव की घोषणा होते ही आचार संहिता लग गई। पुलिस प्रशासन चुनाव की घोषण होते ही अलर्ट हो गया और बीते रविवार को शाम के समय पुलिस सडक़ों पर उतर आई।

पुलिस बल को अचानक चौराहों पर देखकर लोग हैरान थे। पुलिस ने चैकिंग अभियान चलाकर वाहनों की तलाशी ली। आने वाले दिनों में पुलिस की सक्रियता और बढ़ जाएगी और शहर में संदेहियों के खिलाफ धरपकड़ अभियान भी चलाया जाएगा।

जिलाबदर बदमाशों, वारंटियों और शहर का माहौल खराब करने वालों को पकडक़र सलाखों के पीछे पहुंचाने की प्रक्रिया को आने वाले दिनों में गति प्रदान की जाएगी।

चुनावी बिगुल फुंकने के साथ ही पुलिस प्रशासन भी अपनी रणनीति बनाने लग गया है। चुनाव पुलिस के लिए चुनौती होते हैं, इसलिए पहले से ही कार्ययोजना बनाने के लिए वरष्ठि अधिकारी माथापच्ची में जुट गए हैं।

जिले में पदस्थ अधिकारियों के लिए है पहला लोकसभाचुनाव  – पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीना, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर ओमप्रकाश शर्मा व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण संजय ध्रुव सहित कई पुलिस निरीक्षक के लिए बिलासपुर का पहला लोकसभा चुनाव है।

अब तीनों वरिष्ठ अधिकारी शांतिपूर्ण लोकसभा चुनाव निपटाने के लिए रणनीति बनाने के लिए साथ बैठकर मंथन करेंगे। वैसे तीनों ही अधिकारियों को चुनाव कराने का अनुभव है।