22 सीटों के लिए मोदी-शाह को दिए 2-2 नाम, अंतिम सूची 23 को

मीनाक्षी पारीक 

जयपुर. प्रदेश में लोकसभा चुनावों में प्रत्याशियों के नाम तय करने के लिए मंगलवार को दिल्ली में प्रदेश भाजपा कोर कमेटी के पदाधिकारी पहले पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से मिले। इसके बाद देर रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय चुनाव समिति के साथ भी बैठक हुई। कमेटी के पदाधिकारियों से हुई बातचीत के मुताबिक शाह के साथ बैठक में प्रदेश की 22 सीटों पर प्रत्याशियों को लेकर 2-2 नामों का पैनल तैयार किया गया।

अजमेर, अलवर, दौसा पर तीन-तीन नामों का पैनल रखा गया है। अब 23 मार्च को एक बार फिर से केंद्रीय चुनाव समिति के साथ कोर कमेटी की बैठक संभावित है। तब नाम फाइनल हो सकते हैं। कोर कमेटी के पदाधिकारियों की शाह के साथ शाम 5 बजे बैठक शुरू हुई। कमेटी ने अपना पैनल शाह को सौंपा। शाह ने लोकसभा प्रत्याशियों के लिए राजस्थान में करीब 3 सर्वे करवाए हैं।

इस सर्वे रिपोर्टों से पैनल का मिलान किया गया। डेढ़ घंटे की इस बैठक के बाद शाह के अलावा प्रदेश चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर व प्रदेशाध्यक्ष मदन लाल सैनी ने सीट वाइज प्रत्याशियों के पैनल की जानकारी पीएम मोदी को दी। हालांकि 25 नामों में से सबसे ज्यादा चर्चा उन 13 सीटों को लेकर हुई जिस पर पहले चरण में 29 अप्रैल को चुनाव हैं। इन सीटों में टोंक-सवाई माधोपुर, अजमेर, पाली, जोधपुर, बाड़मेर, जैसलमेर, उदयपुर, बांसवाड़ा, चित्तौड़गढ़, राजसमंद, भीलवाड़ा, कोटा, झालावाड़-बारां सीट शामिल है।

शेष 12 सीटों पर प्रत्याशियों के नामों का फैसला बाद में लिया जाएगा। शाह ने प्रदेशाध्यक्ष मदन लाल सैनी से लोकसभा चुनावों के लिए प्रदेश में चलाए गए अभियान व कार्यक्रमों की फीडबैक रिपोर्ट पर भी बातचीत की। कोर कमेटी में प्रदेश चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर, प्रदेश अध्यक्ष मदनलाल सैनी, पूर्व सीएम वसुंधरा राजे, संगठन महामंत्री वी सतीश, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री वी सतीश, प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया शामिल थे।