जम्‍मू-कश्‍मीर: सीआरपीएफ जवान ने तीन साथियों को गोलियों से भूना, खुद को भी गोली मारी

राजेन्द्र भगत 

ऊधमपुर। जम्मू-कश्मीर में ऊधमपुर शहर के औद्योगिक क्षेत्र बट्टल वालियां में सीआरपीएफ की 187वीं बटालियन के कैंप में बुधवार रात जवानों में किसी बात को लेकर हुई बहस ने खूनी रूप ले लिया। एक जवान ने अपनी सर्विस राइफल से तीन साथियों की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी। बाद में खुद को भी गोली मार ली। जवान को गंभीर हालत में सैन्य अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

बताया जाता है कि कानपुर (उत्तर प्रदेश) निवासी कांस्टेबल अजीत कुमार की हेड कांस्टेबल जोगिंदर कुमार, हेड कांस्टेबल पोखर मल और हेड कांस्टेबल उम्मीद सिंह से रात में किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। बात बढ़ गई और कांस्टेबल अजीत ने अपना आपा खो दिया। उसने अपनी सर्विस राइफल निकाली और तीनों पर गोलियां दाग दीं। इसके बाद अजीत ने खुद को भी गोली मार ली। गोलियों की आवाज से कैंप में अफरा-तफरी मच गई।

सभी ने पहले समझा कि आतंकी हमला हुआ है। अन्य जवान व अधिकारी मौके पर पहुंचे तो स्थिति कुछ और निकली। खून से लथपथ चारों को अस्पताल ले जाया गया। जहां पोखर मल, उम्मीद सिंह व जोगिंदर सिंह को मृत घोषित कर दिया गया। गंभीर रूप से घायल अजीत का सैन्य अस्पताल ऊधमपुर में उपचार जारी है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।