प्रियंका वाड्रा दादी के घर में रुकीं मगर पास में दादा की कब्र पर नहीं गई, भाजपाइयों ने चढ़ाए फूल

प्रयागराज। होली की पूर्व संध्या पर भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को ममफोर्डगंज स्थित फीरोज जहांगीर गांधी की कब्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया। कार्यकर्ताओं ने वहां बाकायदा झाड़ू लगाई और धुलाई भी की। कूड़े को बाहर किया, उसके बाद फूल-माला चढ़ाया।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा रविवार रात स्वराज भवन पहुंची थीं। वह सोमवार सुबह संगम पहुंचीं और वहां पूजा-पाठ कर पूर्वाचल में लोकसभा चुनाव प्रचार का बिगुल फूंका। इसके पहले वह बड़े हनुमान मंदिर और किला स्थित मूल अक्षयवट का दर्शन करने भी गई थीं। फिर उन्होंने मनैया गांव स्थित मनु घाट से गंगा यात्रा शुरू की थी। प्रियंका वाड्रा स्वराज भवन से मात्र दो किमी दूर स्थित दादा फिरोज गांधी की कब्र पर फूल तक चढ़ाने नहीं गईं। इसको लेकर भाजपा ने चुटकी ली थी।

प्रदेश सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह तथा काशी क्षेत्र के अध्यक्ष महेश चंद्र ने इस पर प्रियंका से सवाल भी दागा था। वह मंदिर-मंदिर कर रही हैं, मगर अपने पूर्वज को ही भूल गईं। इस पर बुधवार को भारतीय जनता युवा मोर्चा के महानगर उपाध्यक्ष सचिन मिश्र के नेतृत्व में योगी शुक्ला, अमर तिवारी, चंदन तिवारी, विश्वास रावत, संदीप कुमार केशरवानी, सजल अग्रवाल, आकाश शुक्ला, अनुराग शुक्ला, सुमित निषाद, राहुल पांडेय, रवींद्र मिश्र आदि कार्यकर्ता ममफोर्डगंज स्थित फीरोज गांधी की कब्र पर पहुंचे और श्रद्धांजलि दी।सचिन मिश्रा ने कहा कि फीरोज गांधी शहर में ईसीसी से पढ़े थे। युवाओं के मन की बात करते थे और प्रियंका वाड्रा शहर में आकर उन्हें भूल गईं, इसलिए उन्होंने कार्यकर्ताओं संग होली की पूर्व संध्या पर उनकी कब्र पर श्रद्धासुमन अर्पित किया