कंपिल में अवैध शस्त्र फैक्ट्री पकड़ी, दो गिरफ्तार, पूछताछ जारी

प्रदीप कुमार 

फर्रुखाबाद : कंपिल पुलिस ने मंगलवार शाम शस्त्र फैक्ट्री का भंडाफोड़ कर मौके से बने-अधबने असलहे बरामद कर दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का कहना है कि चुनाव में अशांति फैलाने के उद्देश्य से असलहे बनाए जा रहे थे। तीन दिन पहले 50 तमंचे बनाने का आर्डर दिया गया था।

चुनाव का बिगुल बजते जिले के कुछ गांवों में अवैध असलहों के निर्माण में कई लोग जुटे हैं। मंगलवार को कंपिल के गांव साद नगर के मजरा नगला रेंद में पुलिस को अवैध शस्त्र फैक्ट्री संचालित होने की सूचना मिली। एसओ जेएल सोनकर के नेतृत्व में टीम ने कटरी क्षेत्र स्थित झोपड़ी में छापेमारी की। वहां असलहे बना रहे नगला रेंद के कल्लू व सतपाल को गिरफ्तार कर लिया। मौके पर 315 बोर के दो बने तमंचे तथा 36 अधबने तमंचे बरामद हुए। आरोपितों के पास से कारतूस के खोखे और असलहे बनाने के उपकरण भी पुलिस ने बरामद किए। पुलिस सूत्रों की मानें तो आरोपितों को तीन दिन पहले ही 50 तमंचे बनाने का आर्डर मिला था। आरोपितों ने बताया कि महज कुछ घंटे ही काम कर पाए, तभी पुलिस ने दबोच लिया। आरोपितों के खिलाफ लगेगा गैंगस्टरअवैध शस्त्र बनाने के मामले में आरोपितों को वर्ष 2006 में पंचायत चुनाव के दौरान गिरफ्तार किया गया था। उस समय भी इनके कब्जे से बड़ी मात्रा में बने व अधबने असलहे मिले थे। पुलिस अधीक्षक डॉ. अनिल मिश्रा ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई भी कराई जाएगी। अन्य बिदुओं पर भी जांच चल रही है। अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन सिंह, सीओ कायमगंज अखिलेश राय भी मौजूद रहे। ..आखिर किसने दिया था आर्डर!चुनावी माहौल में एक साथ 50 तमंचे बनाने का आर्डर आखिर किसने दिया था। यह पता लगाना पुलिस के लिए चुनौती होगी। पुलिस अगर आर्डर देने वाले को गिरफ्तार कर लेती है तो उसे जिले में चल रहीं और भी अवैध शस्त्र फैक्ट्रियों पर शिकंजा कसा जा सकता है।