शहीदो को श्रद्दांजलि दी गई जेकेएलएफ पर प्रतिबंध का स्वागत किया

 

-राजेंद्र भगत-
जम्मू:क्रांति दल के राज्य प्रदान की प्रीतम शर्मा की लीडरशिप मैं शहीद ए आजम भगत सिंह राजगुरु एवं सुखदेव के शहीदी दिवस के उपलक्ष में उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की जम्मू के इंदिरा चौक स्थित क्रांति दल कार्यालय में सदस्यों ने एक कार्यक्रम का आयोजन किया जिसमें क्रांति दल के सदस्यों के साथ-साथ अन्य सदस्य भी उपस्थित हुए तथा उन्होंने शहीदों को याद कर उन्हें श्रद्धांजलि दी तथा इस मौके पर बोलते हुए क्रांति दल के प्रधान श्री प्रीतम शर्मा ने कहा कि हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि किस प्रकार इन नौजवानों ने हिंदुस्तान को गुलामी से आजादी की तरफ ले जाने के लिए किस प्रकार आंदोलन चलाए थे उन्होंने कहा कि भगत सिंह राजगुरु तथा सुखदेव में देश भक्ति की लो जन्म से भरी थी जिन्होंने आजादी की यह लो पूरे हिंदुस्तान के युवकों तक फैलाई जिससे आजादी के दीवाने युवा हंसते-हंसते कुर्बान होने को तैयार हो गए और एक समय ऐसा भी आया कि जब उन्हें आज ही के दिन फांसी पर लटकाया गया लेकिन उन्होंने उफ तक नहीं की और हंसते हंसते फांसी के फंदे को अपना लिया जिसके बाद वह देश के लिए आजादी का प्रेरणास्रोत बने और अंत में देश को आजादी मिली उन्होंने कहा कि आज हमें दुख होता है कि उनकी आजादी की कुर्बानी को आज कुछ लोग तोड़ने पर लगे हैं उन्होंने कहा कि राजनीति में सत्ता प्राप्त करने के लिए आज देश विरोधी भावना को हवा दी जा रही है जो देश के लिए खतरे की घंटी है उन्होंने कहा कि क्रांति दल के सदस्य ऐसे लोगों को चेतावनी देते हैं कि वह अपनी राजनीतिक करते करते देश का विरोध करना छोड़ दें कहीं ऐसा ना हो कि इन देश विरोधियों को सबक सिखाने के लिए देश के युवा एकत्रित होकर उन्हें ही सबक ना सिखा दें उन्होंने कहा कि केंद्र की सरकार राष्ट्र की एकता के लिए गंभीर है जिसके परिणाम स्वरुप उन्होंने कई राष्ट्र विरोधी संगठनों को प्रतिबंधित भी किया है जम्मू कश्मीर के जेकेएलएफ संगठन को बंद करके उन्होंने संदेश दे दिया है कि वह देश का विरोधी कोई भी व्यक्ति या तो सलाखों के पीछे रहेगा या देश के बाहर ज्ञात रहे कि यह वही लोग थे जो खाते तो भारत का है पर पैरवी पाकिस्तान की करते हैं वह देश को तोड़ने की रेस में बढ़-चढ़कर लगे हैं जिनका सपना कभी भी पूरा नहीं होने देंगे श्री प्रीतम शर्मा ने कहा कि अब समय आ गया है कि हमें भारत को एकता और मजबूती के बंधन में बांधना है इसके लिए देश के युवक ही अपना योगदान दे सकते हैं उन्होंने कहा कि भगत सिंह राजगुरु और सुखदेव हमारे प्रेरणा स्रोत रहे हैं जिन्होंने अपने आप को देश पर कुर्बान कर दिया था तो क्या आज के युवा अपने देश की एकता बनाए रखने के लिए कुर्बान नहीं हो सकते। क्रांति दाल ने मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जम्मू कश्मीर में हुर्रियत पर प्रतिबंध लगाने एवं राष्ट्र विरोधी संगठनों पर बैन लगाने के लिए धन्यवाद दिया

आज के इस कार्यक्रम में महासचिव विजय कुमार उपप्रधान अखिल गंडोत्रा युवा प्रधान तरुण गुप्ता नितिन वालिया रिंकू शर्मा अनिल शर्मा नीरज दमीन सचिव अमित मीनिया सहित अन्य लोग भी मौजूद थे