खुद को पत्रकारों का ‘बाप’ बता कर विवादों में घिरे BJP के मंत्री

गांधीनगर: गुजरात के नए मंत्री जवाहर चावड़ा ने पत्रकारों के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने के बाद अब इस पर लीपा-पोती करते हुए सफाई पेश करने का प्रयास किया है। कुछ ही दिन पहले कांग्रेस और जूनागढ़ जिले की माणावदर सीट से त्यागपत्र देकर भाजपा में शामिल हो गए चावड़ा को तुरंत ही कैबिनेट मंत्री बना दिया गया था। भाजपा में शामिल होते समय उनसे पत्रकारों ने कई सवाल पूछे थे जिनके उन्होंने अजीबोगरीब जवाब दिए थे।  इसके बाद हाल में जूनागढ़ जिले में एक समारोह में उन्होंने खुद को पत्रकारों का बाप बता डाला। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि उनके पत्रकार पूछते रहे थे और अब भी पूछते हैं कि वह कांग्रेस छोड़ कर भाजपा मे क्यों गए।

पत्रकारों ने की माफी की मांग
कांग्रेस में उन्हें समस्या क्या थी। मैने उनसे कहा कि तुम्हारे बाप को (उन्हें स्वयं को) ऐसी कोई समस्या हुई ही नहीं थी।  इस घटना के बाद से पत्रकारों ने उनसे माफी की मांग की है। उनके कार्यक्रमों के बहिष्कार की चेतावनी भी दी गयी है। चावड़ा ने आज एक वीडियो संदेश जारी कर कहा कि उन्होंने स्थानीय बोली के शब्दों का उपयोग किया था जिनको लेकर विवाद पैदा हुआ है। 20 मिनट के उनके संदेश में केवल तीन चार सेकंड की इन बातों पर ध्यान नहीं दिया जाना चाहिए।

भाजपा में हुए थे शामिल
ज्ञातव्य है कि चावड़ा ने इससे पहले यह कह कर सबको हैरत में डाल दिया था कि उन्हें कांग्रेस में कोई समस्या नहीं है। वह भाजपा में उसी तरह आए हैं जैसे कोई व्यक्ति स्वाद बदलने के लिए एक होटल से दूसरे होटल में जाता हो। उन्होंने यह भी दावा किया था कि वह किसी पद की इच्छा से भाजपा में नहीं आए हैं पर एक ही दिन बाद उन्होंने मंत्री पद की शपथ ले ली थी।