प्रापर्टी डीलर की हत्या कर शव कुएं में फेंका, 2 गिरफ्तार

निताबेनिबॉगडे 

नागपुर। अजनी थानांतर्गत एक प्रापर्टी डीलर की हत्या कर दी गई। मृतक का नाम बुधराम उर्फ कालू कैथवास (50) है। घटना शताब्दी चौक के पास फूलमती ले -आउट में शनिवार को उजागर हुई। पुलिस ने इस मामले में मृतक की प्रेमिका को हिरासत में लिया है। बुधराम की हत्या के बाद उसका शव कुएं में फेंक दिया गया था। उसकी प्रेमिका ने आसपास के लोगों को घटना की जानकारी दी तब आस-पास के लोगों ने इस वारदात की खबर पुलिस को दी। संदेह के आधार पर पुलिस  उसकी प्रेमिका को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। पुलिस ने इस मामले में आराेपी बादल प्रधान और प्रशील डुकरे को गिरफ्तार किया है।

हाल ही में किया था बड़ा सौदा
पुलिस सूत्रों के अनुसार प्लाट नंबर 133 काशी नगर,रिंग रोड निवासी बुधराम उर्फ कालू शताब्दी चौक से थोडी दूर फूलमती ले आउट में किसी जायसवाल नामक व्यक्ति के बड़े प्लाट पर नाले के किनारे झोपड़ी बनाकर रहता था, जबकि काशी नगर में उसकी पहली पत्नी अपने दो बच्चों के साथ रहती है। हर दिन की तरह वह रात में अपनी झोपड़ी  में सो रहा था। शनिवार की तडके 3:30  बजे के करीब उसकी प्रेमिका आई और आसपास रहने वाले लोगों को जगाने लगी। उसी ने ही लोगों को जानकारी दी कि कालू की किसी ने हत्या कर दी। आसपास के झोपड़ीवाले लोगों ने पुलिस को जानकारी दी। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर शव का पंचनामा किया। उसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए शासकीय अस्पताल में भेज दिया।पुलिस ने बताया कि कालू पिछले कुछ वर्षों से प्रापर्टी डीलिंग के कारोबार से जुड़ गया था। उसने कुछ प्लाटों पर कब्जा कर रखा था। हाल ही में उसने एक प्रापर्टी की डीलिंग की थी , जिसमें उसे करीब 10-12 लाख रुपए मिलने की जानकारी मिली है। उसमें से होली के चार दिन पहले उसने नया आटो खरीदा था। बाकि कुछ बचे रुपए वह दूसरी जगह निवेश करने वाला था। वह अपनी पहली पत्नी को भी कुछ रुपए देने वाला था। इसकी जानकारी उसकी कथित प्रेमिका को भी लगी थी।

बिस्तर में मिले खून के निशान
सूत्र बताते हैं कि उसकी प्रेमिका कभी शंकरपुर में किसी के घर में रहती थी तो कभी उसके पास रहती थी। शनिवार की तड़के उसने कालू की हत्या की जानकारी आस-पास रहने वाले लोगों को दी थी। कालू की झोपड़ी में बिस्तर पर खून पड़ा हुआ था। आरोपियों ने उसके गर्दन के पास ही आठ से दस वार किए थे। हत्या के लिए सत्तूर का उपयोग किया गया था। आरोपी बादल और प्रशील ने वारदात को अंजाम देने के बाद सत्तूर भी बेड पर छोड़ दिया था। हत्या करने के बाद आरोपियों ने मृतक के हाथ-पैर रस्सी से बांधे और उसके बाद बड़ा पत्थर बांधकर उसे झोपड़ी के सामने बने कुएं में डाल दिया ताकि शव पानी से ऊपर न आए। शव को कुएं तक घसीटकर ले गए थे, इसके निशान भी वहां पर दिखाई दिए। शव को कुएं में डालकर सबूत नष्ट करने का प्रयास आरोपियों ने किया था। वारदात के बाद पुलिस ने उक्त दोनों आरोपियों को धरदबोचा है। मृतक का भाई कुख्यात अपराधी है। उसे पिछले दिनों शहर पुलिस ने तड़ीपार किया था। अजनी पुलिस ने धारा 302, 201 के तहत मामला दर्ज किया है। आगे की जांच पीएसआई जाधव कर रहे हैं।