हिमाचल के रोहतांग में रेस्क्यू पोस्ट का इंतजार

मीनाक्षी भारद्वाज 

मनाली। 20 से 25 फीट बर्फ की ऊंची परत ओढ़े रोहतांग दर्रे में युवाओं द्वारा रास्ता बनाने के बाद कदमताल की तैयारी हो गई है। लोगों को कोकसर और मढी में रेस्क्यू पोस्ट का इंतजार है। रेस्क्यू पोस्ट स्थापित होते ही लाहुली रोहतांग दर्रे में कदमताल शुरू कर देंगे। शनिवार को लाहुल की चन्द्रा घाटी के युवाओं ने हिम्मत दिखाकर 25 फीट बर्फ के ऊपर से चलकर रोहतांग दर्रे में रास्ता बना डाला है। लाहुल व कुल्लू मनाली में हजारों लाहुली रोहतांग के पार फंसे हुए हैं। इन युवाओं द्वारा रास्ता बना देने से लोगों में अब दर्रा पैदल पार करने की हिम्मत आ गई है।

क्यों दर्रा पार करना पड़ रहा लाहुलियों को

लाहुल घाटी में खेती का काम शुरू हो रहा है, जिस कारण मनाली-कुल्लू से हजारों लाहुली घर जाने को तैयार हैं। लाहुल में भी सैकड़ों लोग व स्कूली बच्चे कुल्लू-मनाली आने को तैयार हैं। इनमें कुछ लोग ऐसे हैं, जिन्हें अपने स्वास्थ्य की जांच करवानी है जबकि अधिकतर बच्चे ऐसे हैं जिन्होंने कुल्लू-मनाली के स्कूलों में दाखिला लेना है।

पर्वतारोहण संस्थान के सहयोग से प्रशासन लगाएगा रेस्क्यू पोस्ट

लाहुल स्पीति प्रशासन अटक बिहारी वाजपेयी पर्वतारोहण संस्थान के सहयोग से कोकसर व मढी में रेस्क्यू पोस्ट स्थापित करेगा। रेस्क्यू पोस्ट के सदस्य रोहतांग दर्रे को पैदल पार करने वालो का सहयोग करेंगे और मौसम को लेकर पल-पल रंग बदलने वाले रोहतांग दर्रे की परिस्थितियों पर नजर रखेंगे। एसडीएम केलांग अमर नेगी ने बताया कि एक सप्ताह के भीतर प्रशासन मढी व कोकसर में रेस्कयू पोस्ट स्थापित कर देगा। उन्होंने कहा कि लोग रेस्क्यू पोस्ट स्थापित होने के बाद ही रोहतांग दर्रा पार करें।