कांट्रेक्टर को पता पूछने के बहाने रोका, फिर रिवॉल्वर दिखाकर लूटे सात लाख रुपए व कार

मनोहर कुमार पारीक 

चूरू. जिले के सुजानगढ़ में हथियारबंद बदमाशों ने पता पूछने के बहाने कार सवार एक व्यक्ति को रुकवाया। इसके बाद रिवॉल्वर दिखाकर कार की चाबी छीनी और कार लूटकर भागकर फरार हो गए। इसी कार में कारोबारी के सात लाख रुपयों से भरा बैग भी रखा था। वारदात के बाद सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने जिले के प्रमुख मार्गों पर हथियारबंद नाकाबंदी करवाई। लेकिन लुटेरों का पता सोमवार शाम तक नहीं चला।पुलिस ने बताया कि वारदात ओमप्रकाश बिजारणिया के साथ हुई। रविवार देर रात को ओमप्रकाश रोजाना की तरफ अपने ऑफिस से गांव राजियासर चक जा रहा था। तभी छापर चौराहे के समीप सूनसान जगह हाथ से ईशारा कर ओमप्रकाश की कार को रुकवाया। कार रुकने पर ओमप्रकाश ने शीशा खोला।तब राहगीर बने बदमाश ने हाथ जोड़ते हुए रास्ता भटकने की बात कहकर ओमप्रकाश से बीकानेर जाने का रास्ता पूछा। राहगीर को पता बताकर ज्योंही ओमप्रकाश ने कार का शीशा ऊंचा करना शुरु किया। तभी बदमाश ने शीशा बंद करने नहीं दिया और गेट खुलवाकर कार की चाबी छीन ली।इसी बीच आसपास ही छिपे हुए दो और बदमाश वहां आ गए। वे जबरन कांट्रेक्टर ओमप्रकाश की कार में पीछे की सीट पर बैठ गए। इनमें एक बदमाश ने रिवॉल्वर निकालकर कार मालिक ओमप्रकाश पर तान दी। उसे धमकाते हुए बाहर निकाला। फिर मारपीट कर कार लूटकर भाग निकले।इसी कार में सात लाख रुपयों से भरा बैग व अन्य दस्तावेज रखे थे। तब सूचना मिलने पर उपाधीक्षक नरेंद्र शर्मा व थानाप्रभारी मुश्ताक खान घटनास्थल पर पहुंचे। नाकाबंदी करवाई। वहीं, सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी खंगाली। लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। लुटेरों की तलाश में विशेष टीम गठित की गई है।