बालाघाट व वारासिवनी के 3 प्रतिष्ठानों पर आयकर विभाग की छापेमारी, जांच जारी

बालाघाट: आयकर विभाग की टीम ने सोमवार दोपहर को बालाघाट और वारासिवनी के तीन प्रतिष्ठानों में अचानक दबिश देकर प्रतिष्ठान संचालकों के आय से जुड़े दस्तावेज खंगाले। उस समय तहलका मच गया जब एक साथ आयकर विभाग के ज्वाइंट कमिश्नर पीडी चौगुले, असिस्टेंट कमिश्नर एमएम लांजेवार समेत 10 सदस्यीय टीम ने दबिश देकर से दस्तावेज खंगाले और जानकारी ली। यह कार्रवाई सोमवार शाम तक जारी रही। इस दौरान पुलिस बल भी मौजूद था। सूचना थी कि इन संस्थानों में आय से अधिक संपत्ति रखने का मामला सामने आया था। जिसकी शिकायतें आयकर विभाग को मिली थीं।

बालाघाट के आयकर अधिकारी यूएस मर्सकोले ने कहा कि वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बालाघाट के शुभम ट्रेडर्स, वारासिवनी में गायत्री राइस मिल और तरंग ऑडियो, वीडियो व्यवसायिक प्रतिष्ठान में आय से जुड़ी पूछताछ और कागजों की जांच पड़ताल की गई है। यह एक रुटीन सर्वे है जिसकी जांच चल रही है, फिलहाल कुछ भी कहना उचित नहीं। कार्रवाई जांच पूरी होने तक तक जारी रहेगी।

गौरतलब है कि बालाघाट में शुभम ट्रेडर्स के संचालक द्वारा तेल का बड़ा व्यापार किया जाता है, जहां दोपहर में आयकर अधिकारियों ने छापामार कार्रवाई करके दबिश दी और व्यापारियों के बिक्री और आयकर में मिल रही गड़बड़ियों की जांच की। इसी तरह वारासिवनी में सुरेश खंडेलवाल की गायत्री राइस मिल और मॉडल के तरंग ऑडियो, विडियो प्रतिष्ठानो में दबिश देकर कागजी दस्तावेजों का खंगाला।