जीत की लय बरकरार रखने उतरेंगे दिल्ली कैपिटल्स और चेन्नई सुपरकिंग्स

नई दिल्ली : चेन्नई सुपरकिंग्स और दिल्ली कैपिटल्स इंडियन प्रीमियर लीग में जब यहां आमने सामने होंगे तो दोनों टीमें जीत की लय बरकार रखने की कोशिश करेंगी। सुपरकिंग्स के चतुर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के सामने दिल्ली के युवा आक्रामक बल्लेबाज ऋषभ पंत को रोकने की चुनौती होगी जिन्होंने मुंबई इंडियन्स के खिलाफ टीम की 37 रन की जीत के दौरान 27 गेंद में नाबाद 78 रन की शानदार पारी खेली।

फिरोजशाह कोटला पर सुपरकिंग्स की टीम अपने अनुभवी खिलाडिय़ों के कारण जीत की दावेदार है लेकिन मेजबान टीम युवा खिलाडिय़ों की मौजूदगी में जोश से भरी है। धोनी की टीम के खिलाफ अपने घरेलू मैदान पर दिल्ली का रिकार्ड काफी अच्छा नहीं है। कोटला की पिच भी धोनी की टीम को जीत का दावेदार बनाती है। हरभजन सिंह, रविंद्र जडेजा और इमरान ताहिर की सुपरकिंग्स की स्पिन तिकड़ी रायल चैलेंजर बेंगलूर के खिलाफ कम स्कोर वाले मैच में अपनी उपयोगिता साबित कर चुकी है।

पंत को स्पिनरों के खिलाफ परेशानी का सामना करना पड़ता है और इस युवा के साथ काफी क्रिकेट खेल चुके धोनी उनकी इस कमजोरी से वाकिफ होंगे और इसका फायदा उठाने की कोशिश करेंगे। कोटला की पिच के मैच आगे बढऩे के साथी धीमा होने की संभावना है और ऐसे में धोनी तेज गेंदबाजों के साथ गेंदबाजी की शुरुआत करके हरभजन और ताहिर को बाद के ओवरों के लिए बचा सकते हैं जब संभवत: पंत के क्रीज पर उतरने की उम्मीद है। आरसीबी के खिलाफ मैन आफ द मैच बने हरभजन इस बायें हाथ के बल्लेबाज को गेंदबाजी करने की चुनौती के लिए तैयार होंगे जिन्हें शाट खेलना पसंद है।

पहले मैच में विराट कोहली और एबी डिविलियर्स जैसे खिलाडिय़ों को पवेलियन भेजने के बाद हरभजन पंत को भी जल्द से जल्द डग आउट की राह दिखाने का प्रयास करेंगे। सीएसके को उम्मीद होगी कि उनके बल्लेबाज कोटला में अधिक स्वच्छंद होकर बल्लेबाजी कर पाएंगे जबकि दिल्ली की टीम चाहेगी कि ट्रेंट बोल्ट और इशांत शर्मा जैसे उसके अनुभवी गेंदबाज किफायती गेंदबाजी करें। समय: मैच रात आठ बजे शुरू होगा।