22 लाख का आयकर नहीं चुकाया, किसान गिरफ्तार

महेशचन्द्र मीणा 

अलवर/टपूकड़ा. आयकर विभाग के नोटिस का जवाब नहीं देना एक किसान को भारी पड़ गया। मंगलवार को आयकर विभाग के वाॅरंट पर पुलिस ने टैक्स अदा नहीं करने के आरोप में अलवर जिले के तिजारा इलाके के कमालपुर गांव निवासी किसान रोहिताश को गिरफ्तार कर लिया। प्रदेश में संभवत: किसान पर इस तरह की कार्रवाई का यह पहला मामला है।

आयकर विभाग के अनुसार रोहिताश पर वर्ष 2012-13 की करीब 22.67 लाख रुपए की राशि बकाया थी। ग्रामीणों का कहना है कि औद्योगिक क्षेत्र खुशखेड़ा व कमालपुर के विकास के लिए रीको ने वर्ष 2011 में किसानों की सैकड़ों बीघा भूमि अधिग्रहित की थी। कमालपुर के रोहिताश के परिवार की भूमि भी अधिग्रहित हुई। मुआवजे के रूप में करीब 46 लाख रुपए का चेक मिला था। ग्रामीणों का कहना है कि किसान को रीको द्वारा भूमि अवाप्ति के बदले पैसा मिला था। यह पूरी तरह कर मुक्त है, लेकिन आयकर विभाग ने सभी तथ्यों का दरकिनार करते हुए किसान को गिरफ्तार किया है।

आयकर विभाग के कर वसूली अधिकारी पीके कल्याणिया ने प्रधान आयकर आयुक्त के निर्देश पर 12 मार्च को गिरफ्तारी वारंट जारी कर खुशखेड़ा थानाधिकारी को भेजा। पुलिस ने मंगलवार को रोहिताश को गिरफ्तार कर अलवर में कर वसूली अधिकारी के समक्ष पेश किया। अधिकारी ने आरोपी को बकाया मांग जमा कराने का एक और मौका दिया, लेकिन किसान ने कहा कि उसके पास जमा करवाने के लिए पैसा नहीं है। इसके बाद किसान रोहिताश को जेल भेज दिया गया। जानकारों के अनुसार गिरफ्तार किसान ने अगर अब भी बकाया टैक्स नहीं चुकाया तो कर वसूली के साथ उसे 6 माल की सजा हो सकती है।