मुझे माता वैष्णो देवी का आर्शीवाद मिला -मोदी

(राजेन्द्र भगत)

जम्मू  के अखनूर में रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि मेरा सौभाग्य है कि 2019 के चुनाव के लिए जब में पूरे देश से आशीर्वाद लेने निकला हूं तो पहले दिन जम्मू में मुझे माता वैष्णो देवी का आशीर्वाद प्राप्त हुआ है। डोगरों की शौर्यगाथा और हम भाजपा के लोगों की रगो में दौड़ रही प्रेमनाथ डोगरा जी की त्याग और तपस्या हमें नई स्फूर्ति दे रही हैं। 11 अप्रैल को जब आप कमल के फूल के सामने वाले ईवीएम का बटन दबाएंगे, तो उसकी आवाज देश के भीतर जमें आतंकियों के और उसके साथियों में तो खलबली मचाएगी ही और साथ में सीमा पार भी उसकी गूंज सुनाई देगी।

पीएम मोदी ने कहा कि मुझे समझ नहीं आता कि क्या ये वही कांग्रेस हैं, जिसमें रहकर नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने आजाद भारत की कल्पना की थी। सीमापार आतंक की फैक्ट्री चलाने वाले आज खौफ में है। पहली बार ऐसे हुआ है कि सीमा पार भारत को दहलाने के लिए आने वाले आतंकी भी आज 100 बार सोच रहे हैं। पूरा देश आज एक सुर में और एक स्वर में बात कर रहा है, लेकिन कांग्रेस के नेता दूसरे ही सुर अलाप रहे हैं। बालाकोट में एयर स्ट्राइक के बाद कांग्रेस के नेता ऐसी बात कर रहे हैं, जो भारत के पक्ष में नहीं है। इतना ही नहीं, जम्मू कश्मीर के नेता भी ऐसी बात कर रहे जो गांव में रहने वाले लोगों को मंजूर नहीं है।
पीएम मोदी ने आगे कहा कि आज आतंकी और आतंक के सरपरस्त ये दुआ मांग रहे हैं कि कुछ भी हो जाए। मगर चौकीदार से जैसे तैसे छुटकारा मिल जाए और ये महामिलावटी दिल्ली में बैठ जाएं। लेकिन क्या देश को ये मंजूर है? कांग्रेस के नामदार के गुरु जो कांग्रेस की नीति निर्धारित करते हैं वो बिना लाज-शर्म, हिंदुस्तान की धरती पर मीडिया के सामने आतंकियों को क्लीन चिट दे रहे हैं। जब गुरु ही ऐसा होगा, तो चेला कैसा होगा और चेले के साथी कैसे होंगे। दो तीन दिन पहले जो हुआ वो और शर्मनाक है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के एक उम्मीदवार द्वारा अनाप शनाप बयान बाजी की गई ये पूरे देश ने देखा है । देश ये भी देख रहा है कैसे कांग्रेस ने इन लोगों के साथ हाथ मिलाया है। क्या कांग्रेस का हाथ ऐसे ही लोगों के साथ है जो भारत के खिलाफ बोलें
पीएम मोदी ने आगे कहा कि आपने मुझे निकटता से देखा है। ढाई दशक पहले का वो दिन आपको याद होगा जब लाल चौक पर तिरंगा फहराते हुए जो मैंने कहा था, आज भी वही जज्बा, वही आचरण लेकर मैं चल रहा हूं। सत्ता के मोह में न मैंने अपना रूप बदला है और आगे भी ऐसी कोई गुंजाइश नहीं है। आज सुरक्षा एजेंसियां अपना काम कर रहीं हैं, आतंकियों की फंडिंग से जुंड़े लिंक खंगाल रही हैं। आज जब मैं पुरानी रीति को बदल रहा हूं तो कांग्रेस, एनसी और पीडीपी को नींद नहीं आ रही है। ये चौकीदार को गाली देने में लगे हैं। एलओसी और सीमा से सटे अनेक गांवों को पाकिस्तान की नापाक हरकतों से दिक्कत हो रही है इसका मुझे पूरा एहसास है। लेकिन आप आश्वसत रहिए, ये सब लंबे समय तक नहीं चलेगा। हमारी सेना जैसे जवाब दे रही है उसके सामने ये ज्यादा दिन तक नहीं टिक पाएंगे।
पीएम मोदी ने आगे कहा कि जम्मू कश्मीर की स्थिति जो आज है इसके लिए कांग्रेस, नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी जिम्मेदार है। इन्हीं के कारण कश्मीरी पंडितों को इतना कुछ सहना पड़ा। आतंकवाद का जो जहर घुला है उसके जिम्मेदार भी यही लोग हैं। ये वो लोग हैं जिन्होंने भारत के सामर्थ्य पर भी कभी भरोसा नहीं किया। इनके पास बड़े और कड़े फैसले लेने कि हिम्मत ही नहीं है। ये मरे पड़े लोग हैं। आतंक के साथी चाहे सीमा पार हो या देश के भीतर एक बात कान खोलकर सुन लें, भारत के विरुद्ध उठाया गया एक भी कदम भारी पड़ेगा।
पीएम ने कहा कि हमारी सरकार ने यहां के युवा साथियों की भावनाओं का सम्मान करते हुए अवसरों में भारी वृद्धि की है। सेना और केंद्रीय बालों में एक विशेष भर्ती अभियान के तहत यहां के 20 हजार युवाओं को हमने भर्ती कराया है। कांग्रेस, एनसी और पीडीपी सबने जम्मू से छल किया है, भेदभाव किया। विकास के तमाम प्रोजेक्ट्स को लटकाने और भटकाने का काम किया है। आपका ये चौकीदार विकास की पंचधारा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है।

PKS NEWS 24