लोकसभा चुनाव से पहले मजबूत हुआ हाथ, फूल सिंह बरैया कांग्रेस में शामिल

ग्वालियर: लोकसभा चुनाव के मद्दे नजर दलबदल का दौर जारी है। इसी कड़ी में कांग्रेस के खेमें में एक और नेता की एंट्री हुई है। ग्वालियर-चम्बल क्षेत्र के चर्चित नेता फूल सिंह बरैया ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया। उन्होंने भोपाल में मुख्यमंत्री कमलनाथ की मौजूदगी में अपनी पार्टी बहुजन संघर्ष दल के कांग्रेस में विलय की घोषणा कर दी।

मायावती की बहुजन समाज पार्टी को स्थापित ग्वालियर चम्बल क्षेत्र में स्थापित करने वाले इंजीनियर फूलसिंह बरैया पिछले लम्बे समय से बहुजन संघर्ष दल के माध्यम से अपने राजनीतिक जमीन को बचाए रखे थे। क्योंकि मध्यप्रदेश में भाजपा और कांग्रेस के अलावा कोई तीसरी पार्टी मतदाता की पसंद नहीं बन पाई। इसलिए फूलसिंहबरैया पिछले कुछ दिनों से अपने दल के विलय के प्रयास में थे। कांग्रेस से वे लगातार संपर्क में थे। हालांकि भिंड, श्योपुर, मुरैना,दतिया जैसे क्षेत्रों में उनके पास एक अच्छा वोटबैंक है जो हमेशा भाजपा और कांग्रेस को चुनौती देता रहा है। लेकिन उन्हें जीत नहीं दिला सका। यही वजह रही कि अपने राजनीतिक भविष्य को बचाए रखने के लिए उन्होंने गुरूवार को कांग्रेस का हाथ थाम लिया। भोपाल में गुरूवार को उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ और लहार विधायक और मंत्री डॉ गोविन्द सिंह की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की तथा अपनी पार्टी बहुजन सघर्ष दल के कांग्रेस में विलय की घोषणा की। श्री बरैया बहुजन संघर्ष दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे। इसी के साथ कांग्रेस की तरफ से उनके भिंड – दतिया लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने की संभावनाएं भी बढ़ गई हैं।