मोदी लहर में 7,502 प्रत्याशियों की हुई थी जमानत जब्त

नई दिल्ली: वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में मोदी लहर में 8,748 में से 7,502 प्रत्याशी (85 फीसदी) अपनी सीट पर 16.6 प्रतिशत मत हासिल करने में असफल रहे और उनकी जमानत राशि जब्त हो गई थी। मोदी लहर के बाद भी 62 लोकसभा सीटों पर भाजपा प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई थी। वहीं कांग्रेस के प्रत्याशी 179 सीटों पर अपनी जमानत नहीं बचा सके थे। बसपा के 445 प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई थी। मोदी लहर में कांग्रेस के जिन बड़े नेताओं की जमानत राशि जब्त हो गई उनमें काॢत चिदम्बरम, मणिशंकर अय्यर, राजबब्बर, नगमा, मोहम्मद कैफ, सलमान खुर्शीद, जितिन प्रसाद और बेनी प्रसाद वर्मा शामिल हैं।

 …जब सहानुभूति लहर में 400 से ऊपर निकली कांग्रेस
खालिस्तानी आतंकवाद के विरुद्ध विशेष अभियान छेडऩे को लेकर तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हुई हत्या से उपजी सहानुभूति की लहर के चलते 1984 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस रिकॉर्ड 404 सीटें पाने में सफल रही।  इस चुनाव की विशेषता यह थी कि राजीव गांधी ने अपने छोटे भाई की पत्नी मेनका गांधी को, माधवराव सिंधिया ने अटल बिहारी वाजपेयी को, अमिताभ बच्चन ने हेमवती नंदन बहुगुणा को, ममता बनर्जी ने सोमनाथ चटर्जी को, सी.जे. रैड्डी ने पी.वी. नरसिम्हा राव को, राम रतन राम ने राम विलास पासवान को, जगन्नाथ चौधरी ने चन्द्रशेखर को और सुनील दत्त ने राम जेठमलानी को पराजित किया था।